Dasna-Prison

नई दिल्ली। पिछले 9 साल से चल रहे आरूषि-हेमराज हत्याकांड में हाईकोर्ट ने आज अपना फैसला दे दिया है। सीबीआई ने पहले ही इस मामले में जांच कर अपनी रिपोर्ट सौंप दी थी। यह काफी हाई-प्रोफाईल केस था जिस पर सारे देश की नजर पिछले 9 सालों से टिकी हुई थी। जिस कारण यह फैसला काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा था। इलाहाबाद हाईकोर्ट आज (12 अक्तूबर )अपना फैसला सुनाते हुए तलवार दंपति को इस मामले में बरी कर दिया है।

इस मर्डर मिस्ट्री में सीबीआई की विशेष अदालत ने आरुषि के मां-बाप को दोषी मानते हुए आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। राजेश तलवार और नुपुर तलवार हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे है। दंपति ने सीबीआई अदालत के फैसले के खिलाफ इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील की थी, जिस पर हाईकोर्ट ने आज अपना फैसला सुनाते हुए दंपति को राहत दे दी। तलवार दंपति की याचिका पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में सितंबर 2016 से सुनवाई चल रही थी। 11 जनवरी 2017 को इस इस मामले में सुनवाई पूरी हुई। हाईकोर्ट ने केस में 12 अक्तूबर 2017 को फैसला सुनाने की तिथि निर्धारित की थी। आज 12 अक्तूबर को संदेह का लाभ देते हुए कोर्ट ने तलवार दंपति को बरी कर दिया।

कोई जवाब दें