Rajasthan Ajmer Masouda Motipura bodies Saddam police

जयपुर। राजस्थान के अजमेर जिले स्थित मसूदा के मोतीपुरा गांव में बीते रविवार को मिली एक युवक की मौत के मामले का खुलासा पुलिस ने कर दिया। इस मामले में पुलिस ने मृतक की पत्नी को हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपिता ने अपना गुनाह कबूला और पति द्वारा उसके चरित्र पर संदेह करने का कारण बताया।

पुलिस ने बताया कि रविवार को मोतीपुरा गांव निवासी सद्दाम (22) की लाश उसके कमरे में मिली थी। मृतक का शव चाकूओं से गुदा हुआ था। प्रारंभिक पूछताछ में उसकी पत्नी ने कुछ युवकों पर उसे बाहर बुलाने व नहीं जाने पर कमरे में घुसकर चाकूओं से गोदने की बात कही थी। इस मामले में मृतक के परिजनों ने विस्तृत जांच की मांग की थी।

-पत्नी के चरित्र पर था संदेह
पुलिस ने बताया कि मामले की जांच हुई तो शक की सुई मृतक की पत्नी अफसाना पर ही आकर ठहरी। इस पर उससे सख्ती से पूछताछ हुई तो उसने पूरे मामले का खुलासा कर दिया। अफसाना ने बताया कि शादी के बाद कुछ समय तक सब ठीक रहा। करीब 4-5 माह पहले उसका पति सद्दाम उसे हाथ खर्च नहीं देता और उसके चरित्र पर शक करता। जब वह अपने देवर या अन्य रिश्तेदार से भी बात करती तो सद्दाम संदेह करता। इस बात को लेकर उनके बीच हाथापाई भी हुई। जिससे अफसाना गुस्से से भरी हुई थी। अफसाना ने बताया कि सद्दाम का खुद किसी अन्य महिला से संबंध था।

-बदला लेना चाहती थी
अफसाना ने बताया कि आए दिन किचकिच से वह परेशान हो गई और अपनी पिटाई का बदला लेने की ठान ली। इसके लिए उसे कोई मौका नहीं मिल रहा था। रविवार को सद्दाम की मां अपने पीहर चली गई। जिससे उसे मौका मिल गया। रविवार तड़के वह उठी तो सद्दाम गहरी नींद में सोया नजर आया। इस पर वह चुपचाप धारदार हथियार लेकर आई और सद्दाम के सिर पर ताबड़तोड़ वार कर दिए। जब सद्दाम संभलने लगा तो उसे गले में चाकू उतार दिया। जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सद्दाम बच न जाए इसके लिए उसने बाद में 11 और वार किए। बाद में घंटेभर तक वहीं बैठकर उसकी मौत होने तक इंतजार किया। जब उसे पूरा यकीन हो गया कि सद्दाम खत्म हो गया तब जाकर उसने अपने देवर को जगाया और रची हुई कहानी बताई।

कोई जवाब दें