Bribe-trap-case

जयपुर। मेडिकल प्रमाण पत्र बनाने की एवज में झुंझुनूं में 5 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किए गए नेत्र सहायक महेन्द्र सिंह चाहर एवं गार्ड प्यारे लाल मेघवाल को एसीबी-कोर्ट दो जज पवन कुमार शर्मा ने 4 जून तक न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। इस संबंध में पीएचसी सुल्ताना-झुंझुनूं में फार्मासिस्ट जय प्रकाश मीणा ने एसीबी में शिकायत दर्ज करवाई थी।

कोई जवाब दें