जयपुर। राजस्थान के सीकर जिले में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो ने शुक्रवार को एक बड़ी कार्यवाही करते हुए लक्ष्मणगढ़ थाने के थानाधिकारी को 1.50 लाख रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। थानाधिकारी ने रिश्वत की यह राशि अपने दलाल के मार्फत ली थी। जिसके तहत किसी मुकदमे में परिवादी रामनिवास को निकालने के लिए यह सौदा तय हुआ था। एसीबी ने मामले में दलाल को भी गिरफ्तार कर लिया।

एसीबी के एएसपी नरोत्तम वर्मा ने बताया कि परिवादी ने लक्ष्मणगढ़ थाने में दर्ज एक मुकदमे में उसे निकालने के लिए थानाधिकारी होशियार सिंह उससे 1.50 लाख रुपए की मांग कर रहे हैं। इस पर ब्यूरो ने पहले शिकायत का सत्यापन कराया। जहां मामला सही पाया गया। इस पर ब्यूरो ने जाल बिछा दिया। परिवादी ने जैसे ही थानाधिकारी व दलाल को राशि 1.50 लाख रुपए की राशि दी तो इशारा मिलने के साथ ही ब्यूरो ने छापा मारा। जहां थानाधिकारी होशियार सिंह को रंगे हाथों रिश्वत लेते गिरफ्तार कर लिया। ब्यूरो ने दलाल को भी गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी रिश्वतखोर थानाधिकारी होशियार सिह से पूछताछ करने में जुटी है। एसीबी इन सवालों पर अपना फोकस कर रही है कि रिश्वत की इतनी बड़ी राशि महज थानाधिकारी तक ही जानी थी या इसमें ओर भी पुलिस अफसर शामिल हो सकते हैं।

कोई जवाब दें