Bribe-trap-case

जयपुर। सरकारी ठेकों में दलाली करने के अपराध में 9 मई को गिरफ्तार किए गए आरोपी दलाल सी.के. जोशी एवं कमलजीत सिंह को एसीबी ने मंगलवार को कोर्ट में पेश कर 18 मई तक पुन: रिमाण्ड पर लिया है। 18 करोड़ रुपए के इस घोटाले में एसीबी समेकित बाल विकास सेवाएं के अफसरों व कर्मचारियों की भूमिका की जांच कर रही है।

वही, राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-8 पर ट्रक चालकों से अवैध वसूली करने के आरोपी परिवहिन विभाग में निलम्बित ओवर लोडिंग इंस्पेक्टर मुकेश कुमार डाढ (43) को एसीबी ने कोर्ट में पेश कर 18 मई तक रिमाण्ड पर लिया है। व्यास कालोनी-शास्त्री नगर भीलवाड़ा निवासी डाढ के घर एसीबी ने 8 दिसम्बर 2०16 को दबिश दी थी। घर पर एसीबी को 9 दुपहिया वाहन, 2 कार, बैंकों में 28 खाते, 8.5० लाख रुपए नकद सहित अन्य कीमती सामान मिला था। 12 अप्रेल 2०17 को डाढ ने अग्रिम जमानत अर्जी पेश की थी खारिज होने के डर से 18 अप्रेल को विड्रा कर ली। राहत की उम्मीद नहीं मिलने पर एक मई को पुन: अर्जी लगाई जो खारिज हो गई थी। सहायक निदेशक अभियोजन महेन्द्र कुमार व्यास ने बताया कि मामले में एसीबी हितेश चन्द्रुल, मदन मोहन शर्मा, राम खिलाड़ी जाटव व सुरेश चौधरी को गिरफ्तार कर चुकी है व वीरेन्द्र अग्रवाल, दलाल रवि चौहान सहित अन्य आरोपी फरार हैं।

-फर्जी तांत्रिक रिमाण्ड पर
जयपुर। मृत्यु का भय दिखा कर वरुण पथ-मानसरोवर निवासी एक ऑफिसर दम्पती से 2.18 करोड रुपए नकद एवं लाखों रुपए के आभूषण ठगने के अपराध में 1० मई को गिरफतार किये गये फर्जी तांत्रिक प्रकाश बालानी को एसओजी ने मंगलवार को सीएमएम कोर्ट में पेश कर अनुसंधान एवं बरामदगी करने के लिए 17 मई तक पु:न रिमाण्ड पर लिया है। मामले में एसओजी अन्य मुल्जिमों की भी तलाश कर रही है।

कोई जवाब दें