virat ajinkya partnership

इंदौर। तीसरे टेस्ट में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक न्यूजीलैंड ने बिना किसी नुकसान के 28 रन बनाए। मार्टिन गुप्टिल (17) और टॉम लाथम (6) क्रीज पर हैं। इससे पहले भारत ने 557/5 पर पहली इनिंग डिक्लेयर की। रोहित शर्मा की हाफ सेन्चुरी होते ही कप्तान विराट ने इनिंग डिक्लेयर करने का इशारा किया। टेस्ट का दूसरा दिन विराट कोहली और अजिंक्य रहाणे के नाम रहा। विराट करियर की दूसरी डबल सेन्चुरी लगाने के बाद 211 रन पर आउट हुए। वहीं, रहाणे ने 188 रन बनाए। रोहित शर्मा 51 और रवींद्र जडेजा 17 रन बनाकर नॉटआउट रहे।
विराट और रहाणे ने सबसे बड़ी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड बनाया। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 365 रन जोड़े।इसके साथ ही इन्होंने सचिन तेंडुलकर और वीवीएस लक्ष्मण का 2003-04 में बनाया गया रिकॉर्ड तोड़ दिया। सचिन-लक्ष्मण ने तब आॅस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में चौथे विकेट के लिए 353 रन की पार्टनरशिप की थी। गौरतलब है कि इंदौर टेस्ट के पहले दिन 100 रन पर ही टीम इंडिया के तीन विकेट गिर जाने के बाद कप्तान विराट और उप-कप्तान रहाणे ने क्रीज पर मोर्चा संभाला था।दोनों आते ही ऐसे जमें कि न्यूजीलैंड के बॉलर्स विकेट के लिए तरस गए। पहले दिन के अंत तक विराट 103* रन और रहाणे 79* रन पर नॉटआउट लौटे।

-कप्तान की विराट इनिंग
विराट कोहली टेस्ट में दो डबल सेन्चुरी लगाने वाले पहले इंडियन कैप्टन बने। पिछले 7 मैचों में ये उनकी दूसरी डबल सेन्चुरी है। जुलाई में वेस्ट इंडीज के खिलाफ 200 रन बनाए थे। टेस्ट करियर का बेस्ट स्कोर बनाया। 211 रन की इनिंग में 20 चौके लगाए।

-उप-कप्तान रहाणे भी नहीं पीछे
अजिंक्य रहाणे ने विराट के साथ रिकॉर्ड पार्टनरशिप की। उन्होंने 5वें नंबर पर बैटिंग करते हुए चौथा बेस्ट स्कोर बनाया।उनसे आगे वीवीएस लक्ष्मण (200*) और मोहम्मद अजहरुद्दीन (199 और 192 रन) हैं।ये रहाणे की 8वीं टेस्ट सेन्चुरी रही। साथ ही करियर का टॉप स्कोर भी। पहले दिन तीन विकेट चटकाने वाले कीवी बॉलर्स दूसरे दिन विकेट के लिए तरसते रहे।उन्हें पहली सफलता आखिरी सेशन में विराट कोहली के विकेट रूप में मिली। दूसरे दिन न्यूजीलैंड सिर्फ दो विकेट ही चटका सका। ट्रेंट बोल्ट और जीतन पटेल ने दो-दो विकेट लिए, जबकि एक विकेट सैंटनर को मिला।

-ऐसा रोमांचक रहा दूसरे दिन का खेल
दूसरे दिन क्रिकेट फैन्स दोनों से जिस तरह के खेल की उम्मीद कर रहे थे, विराट-रहाणे ने बिल्कुल वैसा ही किया।267/3 के स्कोर से आगे खेलते हुए दिन के पहले सेशन में रहाणे ने अपनी सेन्चुरी पूरी की। इसके बाद दोनों प्लेयर्स अटैकिंग मूड में आ गए।लंच तक विराट 149 और रहाणे 124 रन बनाकर क्रीज पर थे और टीम का स्कोर 358 रन था। वहीं, दिन के दूसरे सेशन यानी टी ब्रेक तक ये स्कोर 456 रन हो गया था। इस बीच रहाणे ने 150 रन और विराट ने डबल सेन्चुरी पूरी की।पूरे दिन विकेट के लिए तरसते रहे कीवी बॉलर्स को आखिरी सेशन में दिन की पहली सफलता मिली। 365 रन के बड़े अंतराल के बाद बॉलर जीतन पटेल ने विराट को 211 रन के निजी स्कोर पर आउट किया। तब टीम इंडिया का स्कोर 465 रन था। इसके बाद ऐसा लग रहा था कि रहाणे भी डबल सेन्चुरी लगाएंगे, लेकिन 188 रन के निजी स्कोर पर वो अपना विकेट खो बैठे।रहाणे को बोल्ट की बॉल पर विकेटकीपर वेटलिंग ने लपका।
इसके बाद 6 विकेट के लिए रोहित शर्मा और जडेजा ने तेजी से 53* रन की पार्टनरशिप की। रोहित शर्मा ने 62 रन पर तेजी से 51 रन बनाए। इसके साथ ही कप्तान विराट ने 557/5 पर पहली इनिंग डिक्लेयर कर दी। जवाब में कीवी टीम ने खेल खत्म होने तक 28 रन बना लिए हैं।

कोई जवाब दें