High court judge will decide on Padmav
जयपुर। पद्मावत फिल्म का विशेष राजस्थान के जोधपुर में दिखाया जाएगा। हाईकोर्ट न्यायाधीश संदीप मेहता की बैंच और पक्ष-विपक्ष के कुछ एडवोकेट ही इस फिल्म को देखेंगे। फिल्म देखने के बाद हाईकोर्ट जज संदीप मेहता फिल्म के बारे में फैसला करेंगे कि इस फिल्म से इतिहास के साथ छेड़छाड़ की गई है और सामाजिक-धार्मिक तनाव फैलने का अंदेशा है। शाम को पद्यावत फिल्म का शो रखा गया है। कड़ी सुरक्षा के बीच यह फिल्म दिखाई जाएगी। इसमें दो सौ कांस्टेबल तैनात किए गए हैं, साथ ही आला अफसर भी नियुक्त किए हैं।
गौरतलब है कि डीडवाना में एक प्राथमिकी दर्ज हुई है कि संजय लीला भंसाली की पद्यावत फिल्म से सामाजिक व धार्मिक भावनाएं बिगड़ने का अंदेशा है। फिल्म पर रोक लगाई जाए। इस प्राथमिकी को रद्द करने के लिए संजय लीला भंसाली ने हाईकोर्ट में याचिका लगाई है। याचिका पर सुनवाई के दौरान यह तथ्य सामने आया कि जब तक फिल्म नहीं देखी जाएगी, तब तक फिल्म पर फैसला नहीं किया जा सकता है। कोर्ट के आग्रह पर फिल्म निर्माता निर्देशक संजय लीला भंसाली ने सोमवार शाम को पद्यावत फिल्म की विशेष व्यवस्था की है।

कोई जवाब दें