arvind

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी प्रमुख व दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को चुनाव आयोग पर आरोप लगाते हुए बड़ा हमला बोला। केजरीवाल ने प्रेंस कांफ्रेस में कहा कि चुनाव आयोग धृतराष्ट्र बन हुआ है। वह दुर्योधन को येन-केन सत्ता में लाना चाहता है। इसके पीछे उन्होंने तर्क दिया कि धौलपुर में रविवार को जो उपचुनाव हुआ। उसमें 200 मशीनों का प्रयोग किया गया। लेकिन इनमें 18 ईवीएम में गड़बड़ी हुई है। इनका कोड बदल दिया गया है। हालात यह रहे कि जो भी बटन दबाया जाए वोट भाजपा के खाते में ही जा रहा था। जो सीधे-साधे इस बात की ओर इशारा कर रहा था कि यह सब चुनाव आयोग के इशारे पर तो नहीं हो रहा। यह सब एक बहुत शातिराना अंदाज से किया जा रहा है। मैं खुद इंजीनियर हूं, आईआईटी स्टूडेंट रहा हूं। एमसीडी चुनाव में राजस्थान से ईवीएम मंगवाई जा रही है। जिसकी जरुरत ही नहीं है। दिल्ली में पहले ही 15 हजार मशीनें उपलब्ध है। वर्ष 2006 से 2013 तक की मशीनों को उपयोग में लेने के मामले में पहल नहीं कर रहा है। चुनाव आयोग इस मामले में बहाने बनाते हुए 2006 से पहले की मशीनों का उपयोग कर रहा है। साफ तौर पर देखा जा सकता है कि खराब मशीनें केवल भाजपा के पक्ष में ही वोट दिखाती। इस दौरान केजरीवाल ने चुनाव आयोग को चुनौती दे डाली और कहा कि आयोग खराब ईवीएम को हमें सौंपे हम सिद्ध कर देंगे कि इनसे छेड़छाड़ हुई है। सॉफ्टवेयर को बदल दिया गया है।

-जनप्रहरी की ताजातरीन खबरों के लिए यहां लाइक करें।

कोई जवाब दें