poisonous liquor

जयपुर। उत्तरप्रदेश और उत्तराखण्ड में जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या थम नहीं रही है। मौत का आंकड़ा बढ़कर 82 तक पहुंच गया है। बहुत से लोग गंभीर अवस्था में अस्पतालों में भर्ती है, जिनका उपचार चल रहा है। जहरीली शराब से इतनी मौतों के बाद यूपी और उत्तराखण्ड सरकार ने संबंधित जिलों के आबकारी अधिकारियों व निरीक्षकों को निलंबित कर दिए हैं।

मामले की जांच के आदेश दिए हैं। सरकार ने मृतकों के परिजनों को मुआवजा देने की घोषणा की है। शुक्रवार को जहरीली शराब के सेवन से सहारनपुर, रुडकी, कुशीनगर, मेरठ में मौतें होने लगी। देखते ही देखते सरकारी अस्पताल जहरीली शराब की सेवन से पीडि़त लोगों से भरने लगे। सहारनपुर में अब तक 54 लोग मर चुके हैं।

शेष मौतें मेरठ, कुशीनगर, रुडकी में हुई है। मौतों का सिलसिला बढ़ सकता है। दर्जनों लोग अभी तक गंभीर स्थिति में है, जिनका इलाज चल रहा है। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है। जल्द ही जहरीली शराब मामले में गिरफ्तारी और खुलासा हो सकेगा।

कोई जवाब दें