cm Vasundhara Raje
cm Vasundhara Raje

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि मेहनत और पसीने से हमने विकास की जो धारा बहाई है, उससे पूरे प्रदेश का मान-सम्मान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किए हैं। गत सवा चार साल में विकास के वो काम हुए, जो 70 साल में नहीं हो पाए थे। उन्होंने कहा कि सांगोद विधानसभा क्षेत्र भी इससे अछूता नहीं है।

राजे कोटा जिले के सांगोद में जनसंवाद कार्यक्रम से पहले 242 करोड़ की 6 बड़ी परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास समारोह को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि हाड़ौती क्षेत्र में गुणवत्तापूर्ण सड़कों का जो जाल बिछा है, उसे जनता हमेशा याद रखेगी। अकेले सांगोद विधानसभा क्षेत्र में 105 ग्रामीण गौरव पथ बनाकर जनता को कीचड़ से मुक्ति दिलाई गई है। इनमें 28 करोड़ रुपए की लागत के 60 किसान गौरव पथ भी शामिल हैं।
जनसंवाद के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि द्वितीय चरण में वर्ष 2011 से जनवरी 2012 तक प्राप्त कृषि बिजली कनेक्शनों के आवेदनों के डिमाण्ड नोटिस 16 जून से 20 जून तक जारी किये जायेंगे और बरसात से पूर्व इनको कनेक्शन दे दिये जाएंगे।

क्षेत्र के लोगों ने कुछ वार्डों में दूषित पेयजल की शिकायत की तो मुख्यमंत्री ने इसे गंभीरता से लेते हुए अधीक्षण अभियन्ता को निर्देश दिए कि वे तत्काल क्षेत्रवासियों के साथ मौके पर जाएं और समस्या का निस्तारण कर उन्हें सूचित करें। उन्होंने कहा कि अभियंता नियमित रूप से अपने-अपने क्षेत्रों का भ्रमण कर पेयजल की गुणवत्तापूर्ण आपूर्ति सुनिश्चित करें।
मुख्यमंत्री ने जनसंवाद में भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम, राजश्री योजना, शुभशक्ति योजना, सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना सहित विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से सीधा संवाद करते हुए उनसे योजनाओं का फीडबैक लिया। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद प्रबुद्धजनों को योजनाओं के लाभार्थियों से रूबरू करवाया और बताया कि किस तरह राज्य सरकार की कल्याणकारी योजनाएं लोगों का जीवन बदल रही हैं। उन्होंने आह्वान किया कि आप सब इन योजनाओं का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार कर आमजन को इनका लाभ दिलवाएं।
राजे ने क्षेत्र के लोगों की मांग पर रोडवेज अधिकारियों को सांगोद से दरा होते हुए झालावाड़ के लिए रोडवेज की बस सेवा शुरू करने के निर्देश दिए। इस पर क्षेत्र के लोगों ने करतल ध्वनि के साथ मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि विगत सवा चार साल में सांगोद में उन्होंने जितना विकास देखा है, उतना पहले कभी नहीं हुआ। श्रीमती राजे ने सांगोद विधानसभा क्षेत्र के खिलाडियों की मांग पर क्षेत्र में उचित स्थान तलाश कर एक मिनी स्टेडियम बनाये जाने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में नहरी तंत्र के सुदृढ़ीकरण के लिए कार्यादेश जारी कर दिए गए हैं, शीघ्र ही इसका काम शुरू कर दिया जायेगा।

-साढ़े चार साल में सांगोद में 948 करोड़ के विकास कार्य
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार के साढ़े 4 साल में सांगोद विधानसभा क्षेत्र में 948 करोड़ रूपये के विकास कार्य स्वीकृत किए गए, जबकि पिछली सरकार ने विकास कार्यों पर पांच साल में इससे आधे से भी कम मात्र 423 करोड़ रूपये ही खर्च किए। उन्होंने कहा कि 251 करोड़ 26 लाख रूपये सड़कों के विकास तथा 32 करोड़ रूपये मिसिंग लिंक एवं गौरव पथ के लिए मंजूर किए गए हैं। वहीं 12 हजार 719 परिवारों को घरेलू बिजली कनेक्शन और 1 हजार 394 कृषि कनेक्शन दिए गए हैं। भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना से सांगोद में करीब डेढ़ हजार लोग लाभान्वित हो चुके हैं। उन्होंने कहा कि कनवास में राजकीय महिला महाविद्यालय खोले जाने की स्वीकृति भी जारी की जा चुकी है। श्रीमती राजे ने कहा कि सांगोद विधानसभा क्षेत्र के लोगों को परवन-अकावद पेयजल परियोजना तथा हरिपुरा मांझी पेयजल योजना का लाभ मिलेगा। हरिपुरा मांझी पेयजल योजना की डीपीआर तैयार हो चुकी है।

कोई जवाब दें