More than marriage, careers give importance to the country's youth population: survey

नयी दिल्ली। देश की युवा आबादी शादी से अधिक अपने करियर को महत्व देती है। एक सर्वे में यह तथ्य सामने आया है। शादी के लिए जोड़े मिलाने वाली सेवा प्रदाता शादी.कॉम ने यह सर्वे किया है। इसमें कहा गया है कि देश की युवा आबादी के लिए सबसे महत्वपूर्ण करियर यानी नौकरी या अन्य कोई रोजगार होता है। उसके बाद शादी का नंबर आता है। वहीं तीसरे नंबर पर युवा अपना घर खरीदना चाहते हैं। विदेश में पढ़ाई और दुनिया की यात्रा का नंबर इसके बाद आता है। इस सर्वे में 20 से 35 साल के 7,398 भारतीय महिला-पुरुषों के विचार लिए गए हैं। सर्वे में कहा गया है कि 59 प्रतिशत युवाओं की योजना शादी के लिए बातचीत खुद शुरू करने की है।

यानी ये युवा प्लैन्ड शादी चाहते हैं। 19 प्रतिशत से कहा कि वे उनके परिवार द्वारा तय ह्यअरेंज्ड मैरिज को प्राथमिकता देंगे। सर्वे में 58 प्रतिशत पुरुषों तथा 42 प्रतिशत महिलाओं के विचार लिए गए। शादी.कॉम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी गौरव रक्षित ने कहा, ह्यह्यपिछले कुछ साल से हमने यह रुख देखा है कि युवा इस प्लेटफार्म पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हैं। इनमें से 75 प्रतिशत अपने परिवार के किसी सदस्य के बजाय खुद के लिए ह्यलाइफ पार्टनर तलाशना चाहते हैं। सर्वे में 23 प्रतिशत युवाओं ने कहा कि वे उस साथी से शादी करना चाहेंगे जिसे वे ढूंढेंगे। 69 प्रतिशत ने कहा कि वे शादी के लिए पहला कदम खुद बढ़ाना चाहेंगे, जबकि 31 प्रतिशत से ऐसा करने से इनकार किया। रक्षित ने कहा कि हमारी 50 लाख से अधिक सफल जोड़ों से परिचर्चा से पता चलता है कि शादी के लिए युवा पहला कदम खुद बढ़ाते हैं और जब पार्टनर के चयन की प्रक्रिया आती है तो इसमें वे अपने परिवार के सदस्यों को शामिल करते हैं।

कोई जवाब दें