Gangster Anandpal Singh's encounter case: CBI
Gangster Anandpal Singh's encounter case: CBI

जयपुर। आनंदपाल एनकाउंटर के मामले में सीबीआई जांच को लेकर कांग्रेस पार्टी से जुड़े नेताओं के स्वर मुखरीत होने लगे हैं। पहले जहां पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आनंदपाल प्रकरण में अपनी बात कही थी तो प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट ने सरकार से जांच करा समाज को संतुष्ठ करने की बात कही थी।

वहीं पार्टी प्रवक्ता व जयपुर जिलाध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास ने राज्य सरकार से सीबीआई जांच कराने की बात कही थी। इन सबके बीच अब एक ओर कांग्रेसी नेता इस प्रकरण को लेकर कूद पड़े हैं। पचपदरा से कांग्रेस के पूर्व विधायक रहे मदन प्रजापत ने अपने फेसबुक वॉल पर पोस्ट कर लिखा कि अगर यह एनकाउंटर फर्जी है तो सरकार को इसकी जांच करानी चाहिए।

-सरकार जांच से भाग क्यों रही है
मदन प्रजापत ने फेसबुक वॉल पर लिखा कि एक ओर राज्य के गृहमंत्री कह रहे हैं कि सरकार कोई भी जांच कराने को तैयार है तो एक सवाल आनंदपाल के शव को रखे हुए 9 दिन हो गए हैं। परिवार और समाज की मांग है कि इसकी facebook-wallसीबीआई से जांच हो तो सरकार जांच से क्यों भाग रही है। इतने दिन तक पुलिस व सरकार मामले को जान बूझकर लटका के रख रही है। यह लोकतंत्र के लिहाज से सही नहीं है। इस सरकार में मानवता (दया) नाम की कोई चीज नहीं है। कोई भी प्रकरण की जांच और न्याय की मांग करना हर परिवार और समाज का लोकतंत्र के हिसाब से अधिकार है। हमारी मांग है इस एनकाउंटर की तुरंत सीबीआई जांच के आदेश देकर सरकार तुरंत मामले का निस्तारण करें। ताकि दूध का दूध पानी का पानी हो सके। सरकार अगर सही है तो जांच से क्यों डर रही है? ऐसा लग रहा है सरकार की कथनी और करनी में अंतर है। एक ओर सवाल

1. बीजेपी की सरकार में ही ऐसे एनकाउंटर क्यों होते है?
2. सरकार बाड़मेर का डेल्टा प्रकरण जैसलमेर चतुर सिंह कांड में सरकार जांच से क्यों मुकर रही है?

कोई जवाब दें