Homecoming campaign
जयपुर। चार साल पहले कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामने वाले नागौर के किसान नेता सहदेव चौधरी फिर से कांग्रेसी हो गए हैं। सहदेव चौधरी ने फिर हाथ पकड़ लिया है। भाजपा को किसान विरोधी पार्टी बताते हुए सहदेव चौधरी ने कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस की सदस्यता ली। उनके साथ सैकड़ों समर्थक भी कांग्रेस में शामिल हुए।
भाजपा में शामिल होने के बाद भी पार्टी में कोई विशेष महत्व नहीं देने और नागौर जिला प्रमुख पद पर पुत्रवधु पर मनोनयन नहीं होने से सहदेव चौधरी नाराज चल रहे थे। सहदेव चौधरी के कांग्रेस में आने से पार्टी नागौर में मजबूती होगी। साथ ही इसका शेखावाटी क्षेत्र में जाट समाज में मैसेज पहुंचा है। पेशे से चिकित्सक डॉ. सहदेव चौधरी  किसान हित में काम करने के कारण किसान नेता के रूप में पहचाने जाते हैं। इस बार उनको फिर से कांग्रेस में लाने के लिए हरेंद्र मिर्धा और अन्य कांग्रेसियों ने कवायद की है।

कोई जवाब दें