हैदराबाद। हैदराबाद पुलिस ने कांग्रेस के युवा नेता को अपने आप पर गोली चलवाने के मामले में गिफ्तार कर लिया है। पुलिस ने बताया कि गौड़ ने चुनाव में लोगों की सहानुभूति हासिल करने के लिए खुद को बदमाशों से गोली मरवा ली थी। अपोलो अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद पुलिस ने गौड़ को को गिरफ्तार कर अपने कब्जे में ले लिया। वह अस्पताल से बाहर निकला तो पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उसे न्यायाधीश के सामने पेश करने के लिए नामपल्ली आपराधिक न्यायालय परिसर ले जाया गया।

विक्रम 28 जुलाई को बंजारा हिल्स में अपने घर पर गोलीबारी में घायल हुआ था। उसने पुलिस से कहा था कि दो हमलावर मोटरसाइकिल से आए और उस पर गोलियां चलाकर भाग गए। हालांकि पुलिस की जांच पड़ताल में पता चला कि यह हमला पहले से सुनियोजित था। पुलिस ने पांच लोगों की गिरफ्तारी के साथ मामले को सुलझाने का दावा किया है। दो आरोपी अब भी फरार हैं। विक्रम ने एक गिरोह को उसे गोली मारने के लिए 50 लाख रुपये दिए, ताकि वह एक विधानसभा क्षेत्र में लोगों की सहानुभूति पा सके। इस विधानसभा क्षेत्र से उसका 2019 का चुनाव लडऩे का इरादा है। विक्रम ने कुछ तेलुगू फिल्मों को भी प्रोड्यूस किया है। वह इस हमले का उपयोग कुछ व्यापारियों से लिए हुए कर्जों को वापस नहीं लौटाने के लिए भी करना चाहता था।

कोई जवाब दें