Three divorce

नयी दिल्ली। परवीन तल्हा ने महिला सशक्तीकरण के लिए एक नया तरीका अपनाया है – कहानी के जरिये चेतना
जगाने और जागरूक करने का। तीन बार तलाक के समर्थकों और इसके पीड़ितों की आवाजें किताब के जरिए आप तक पहुंचेंगी। इसके अलावा उनकी नई किताब में जीवन की अनेक सचाईयों से सामना होता है । किताब का नाम है ‘‘ए वर्ड थ्राइस अटर्रड : स्टोरीज ऑन लाइफ्स रियलिटीज’’ । यह किताब बच्चों, महिलाओं, पुरुषों, पशुओं और अलौकिक शक्तियों के बारे में है। कथा संग्रह के पात्रों ने समय के साथ संस्कृति की जरूरत के मुताबिक ढलने की क्षमता और इच्छाशक्ति दिखाई है।

वह संस्कृति जो ना केवल विकसित हुई है बल्कि जिसका स्वरूप भी पूरी तरह बदल गया है।
कुछ पात्र महानगरों, विदेशों में जा बसे, वहां उन्होंने चुनौतियों का सामना किया और कठिन वक्त देखा। किसी ने सफलता हासिल की तो कोई नाकामियों का सामना करते हुए धैर्य से जीवन गुजारते रहे। अधिकांश कहानियों के पात्र लखनऊ के रहने वाले हैं। शीर्षक कहानी ‘‘ए वर्ड थ्राइस अटर्रड : स्टोरीज ऑन लाइफ्स रियलिटीज’’ तीन तलाक के बारे में है। यह कहानी है कौसर की जिसके दो पति उसके लिए जीवन को कैसे दुभर बना देते हैं।

कोई जवाब दें