Rajput

जयपुर। राजस्थान की उच्च शिक्षामंत्री किरण माहेश्वरी के मौसमी चूहे के बयान से प्रदेश की करणी सेना और राजपूत नेता भड़क गए हैं। माहेश्वरी के बयान को राजपूत समाज के खिलाफ बता रहे हैं और माफी नहीं मांगने पर आंदोलन की चेतावनी दे रहे हैं। करणी सेना के अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने तो एक वीडियो वायरल करके चेता दिया है कि ऐसा बयान देने वाली मंत्री के नाक व कान काट देंगे। हालांकि करणी सेना के बयान के बाद मंत्री माहेश्वरी ने कहा है कि उसने कांग्रेस के संदर्भ में बयान दिया है, ना कि करणी सेना और राजपूत समाज के खिलाफ। किरण माहेश्वरी ने कमल का फूल हमारी भूल जैसे सोशल मीडिया पर चल रहे अभियान को लेकर मीडिया के एक सवाल पर कहा था कि चुनावी मौसम है और अभी कई मौसमी चूहे बिलों से निकलकर आ रहे हैं।

इस तरह के बयान दे रहे हैं। यह बयान सोशल मीडिया पर आते ही ही करणी सेना भड़क गई। महिपालसिंह मकराना ने मंत्री के खिलाफ बयान दे दिया। उन्होेंने कहा कि ऐसा बयान देने वाली मंत्री का करणी सेना नाक-कान काटेगी। राजपूत समाज की नाराजगी को देखते हुए माहेश्वरी ने कहा कि मीडिया ने करणी सेना और राजपूत समाज का नाम नहीं लिया था। मैंने मौसमी चूहों वाला बयान कांग्रेस के लिए दिया था। मुझे यह भी पता नहीं है कि कोई समाज या संगठन ऐसा कोई अभियान चला रहा है। मेरी छवि खराब करने का प्रयास किया जा रहा है। उधर, मकराना ने कह दिया है कि राजपूत समाज के दम पर भाजपा प्रदेश में मजबूत हुई है और खड़ी हुई है। माहेश्वरी अपने बयान के लिए माफी नहीं मांगेगी तब तक राजपूत करणी सेना विरोध करेगी।

कोई जवाब दें