Central Bureau of Investigation

नयी दिल्ली : केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने दिल्ली पुलिस के एक उप निरीक्षक को एक व्यक्ति से 1.20 लाख रुपये की कथित रिश्वत लेने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया। उस व्यक्ति ने उसके (पुलिस उप निरीक्षक के) इलाके में अवैध निर्माण के खिलाफ शिकायत की थी। उस व्यक्ति ने पूर्वी दिल्ली नगर निगम में इलाके में कथित अवैध निर्माण के बारे में शिकायत की थी। सीबीआई के सूत्रों ने बताया कि अवैध निर्माण में कथित तौर पर शामिल लोगों ने शिकायतकर्ता पर शिकायत वापिस लेने का दबाव बनाने के लिए इलाके के पुलिस उप निरीक्षक विजय कुमार से संपर्क किया। आरोप है कि इन लोगों ने शिकायतकर्ता के घर पर हमला किया, जब उसने 100 नंबर पर फोन करके पुलिस बुला ली।

कुमार ने शिकायत करने वाले को कथित तौर पर धमकाया कि वह उसके खिलाफ जबरन धन उगाही का मामला दर्ज करेगा। उससे कहा गया कि वह उसपर जबरन उगाही के लिए अवैध निर्माण के खिलाफ शिकायत करने का आरोप लगाया जाएगा। शिकायत करने वाले ने आरोप लगाया कि कुमार ने उससे पांच लाख रुपये की मांग की और उससे नगर निगम और पुलिस के पास से अपनी शिकायत वापस लेने को कहा।

सीबीआई के प्रवक्ता आर के गौर ने बताया, ‘‘शिकायतकर्ता के साथ सौदेबाजी के बाद उप निरीक्षक कथित तौर पर दो लाख रुपये की रिश्वत लेने के लिये राजी हो गया। ऐसा आरोप है कि पुलिस उप निरीक्षक ने शिकायतकर्ता पर दिल्ली पुलिस से अपनी शिकायत वापस लेने का भी दबाव डाला।’’ उन्होंने बताया कि सीबीआई ने कृष्णा नगर थाने में तैनात उप निरीक्षक को पकड़ने के लिये जाल बिछाया। इसके बाद उसे शिकायतकर्ता से 1.20 लाख रुपये की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया गया।

कोई जवाब दें