After defeat, they surrounded the BJP headquarters ... to call the police

गौरव यात्रा में सरकारी खर्च का मामला, भाजपा ने हाईकोर्ट में पेश किया यात्रा खर्च का ब्यौरा
जयपुर। गौरव यात्रा में सरकारी खर्च होने के मामले में भाजपा ने हाईकोर्ट में मुख्य न्यायाधीश प्रदीप नान्द्रजोग और न्यायाधीश जीआर मूलचंदानी की खंडपीठ में यात्रा खर्च का ब्यौरा पेश किया है। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी की ओर से पेश ब्यौरे में अब तक 1,1०,०1,942 रुपए खर्च होना बताया हैं।

यात्रा पूरी होने के बाद पार्टी की ओर से खर्च का सेटलमेंट कर भुगतान किया जाएगा। जवाब को रिकॉर्ड पर लेते हुए हाईकोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 25 अगस्त को रखी है। भाजपा की ओर से हाईकोर्ट को बताया गया है कि 41.3० लाख रुपए टेंट पर, 75.22 हजार बैनरों पर, 2.35 लाख रुपए कारों पर, 38.23 लाख रुपए ब्राडिग, 26 लाख रुपए विज्ञापनों सहित अन्य राशि का खर्च आया है।

4 से 1० अगस्त तक उदयपुर में हुई यात्रा के दौरान 1.4० लाख रुपए का पेट्रोल व डीजल खर्च हुआ है। सरकार की तरह ही भाजपा ने भी जवाब में स्पष्ट किया गया है कि पार्टी के कार्यक्रम का आर्थिक भार राजकोष पर नहीं डाला गया है।
याची ने हाईकोर्ट को बताया कि राज्य सरकार की ओर से गौरव यात्रा पर किए जा रहे सरकारी खर्च को अब वीवीआईपी विजिट के नाम पर खर्च कर रही है। ऐसे में गलत शपथ पत्र देने वाले पर कार्रवाई की जाए।

कोई जवाब दें