Ravi Shastri

कोलकाता: भारत के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने एक बार फिर महेंद्र सिंह धोनी का समर्थन करते हुए कहा है कि दो बार के विश्व कप विजेता कप्तान पर टिप्पणी करने से पहले लोगों को अपने करियर को देखना चाहिए। वीवीएस लक्ष्मण और अजित अगरकर सहित कुछ पूर्व भारतीय खिलाड़ियों ने हाल में टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में धोनी के करियर पर सवाल उठाया था। शास्त्री ने कहा, ‘‘धोनी पर टिप्पणी करने से पहले लोगों को अपने करियर को देखना चाहिए। इस पूर्व कप्तान में काफी क्रिकेट बचा है और यह टीम की जिम्मेदारी है कि वह इस खिलाड़ी का समर्थन करें।’’ शास्त्री यहां फेनेटिक खेल संग्रहालय में 2011 में विश्व कप विजेता रही भारतीय टीम के खिलाड़ियों के आटोग्राफ वाला बल्ला देख रहे थे। कोच ने कहा कि मौजूदा टीम की संस्कृति प्रदर्शन और गुणवत्ता पर आधारित है।

उन्होंने कहा, ‘‘विकेट के पीछे और बल्ले से क्षमता, समझदारी और मैदान पर चपलता को देखते हुए कोई भी धोनी से बेहतर नहीं है।’’ शास्त्री ने खिलाड़ियों की तारीफ करते हुए कहा, ‘‘क्षेत्ररक्षण के मामले में यह फिलहाल दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीम है और शायद यही इसे अतीत की भारतीय टीमों से अलग करता है।’’ भारत और श्रीलंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की श्रृंखला का पहला टेस्ट 16 नवंबर से ईडन गार्डन्स में खेला जाएगा और नये कार्यकाल में यह शास्त्री की पहली घरेलू टेस्ट श्रृंखला होगी।

उन्होंने कहा, ‘‘यह टीम मैदान पर हमेशा जीतने के लिए उतरती है। हमें उम्मीद है कि दक्षिण अफ्रीका जाने से पहले हम डेढ़ महीने तक चलने वाली श्रृंखलाएं जीतेंगे।’’ हार्दिक पंड्या को टेस्ट श्रृंखला के पहले दो मैचों के लिए आराम दिया गया है जिस पर शास्त्री ने कहा, ‘‘यह टीम किसी एक खिलाड़ी से नहीं है, हम एक साथ हारते हैं, एक साथ जीतते हैं।’’ गेंदबाजी कोच भरत अरूण के साथ पहुंचे शास्त्री ने लगभग दो घंटे तक इस संग्रहालय को देखा जिसे खेल इतिहासविद बोरिया मजूमदार ने खोला है।

सर डोनाल्ड ब्रैडमैन के 1948 के बल्ले के साथ स्टांस लेते हुए शास्त्री ने कहा, ‘‘लकड़ी इतनी अच्छी है कि अब भी आप इसके साथ कुछ शाट खेल सकते हो।’’ उन्होंने विराट कोहली के बल्ले की तुलना ब्रैडमैन के बल्ले से की और 2015 विश्व कप की टीम निदेशक की अपनी जर्सी और कैप संग्रहालय को दान में दी। वह उसेन बोल्ट से जुड़ी चीजों से काफी प्रभावित हुए ।

कोई जवाब दें