Vasundhara raje

-पाली विधानसभा क्षेत्र में जनसंवाद

पाली। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि जीएसटी लागू होने के बाद रिपील्ड एक्ट से सम्बंधित बकाया मांग के प्रकरणों के निस्तारण के लिए एमनेस्टी स्कीम शीघ्र लागू कर दी जाएगी। उन्होंने कहा कि बजट में घोषित एमनेस्टी स्कीम का प्रारूप तैयार कर लिया गया है और जल्दी ही इसे प्रारम्भ कर दिया जाएगा। इससे प्रदेश के व्यापारियों को राहत मिलेगी। राजे ने बुधवार को पाली नगर परिषद सभागार में पाली विधानसभा क्षेत्र के व्यापारियों, सीए, उद्यमियों, चिकित्सकों, किसानों, प्रतिभावान विद्यार्थियों, खिलाड़ियों, पेंशनरों, समाजसेवी संगठनों तथा अन्य प्रबुद्धजनों सहित विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से जनसंवाद करते हुए यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि युवा उद्यमियों को प्रोत्साहन देने के लिए मुद्रा योजना की प्रभावी माॅनिटरिंग भी सुनिश्चित की जाएगी ताकि उन्हें समय पर ऋण उपलब्ध हो सकें। मुख्यमंत्री ने कहा कि पाली में ग्रेनाइट उद्योग से निकलने वाले अपशिष्ट के डिस्पोजल के लिए शीघ्र ही डम्पिंग यार्ड बनाया जाएगा। उन्होंने जिला कलक्टर एवं उपखंड अधिकारी को निर्देश दिए कि वे यार्ड के लिए सोजत तथा खारड़ा में चिन्हित स्थानों में से एक स्थान का शीघ्र चयन कर डम्पिंग यार्ड विकसित करें ताकि ग्रेनाइट उद्यमियों को राहत मिल सके। मुख्यमंत्री को जनसंवाद के दौरान किसानों ने न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी गयी उनकी फसल का भुगतान देरी से होने की जानकारी दी तो मुख्यमंत्री ने तुरन्त अधिकारियों से वस्तुस्थिति के बारे में पूछा। अधिकारियों ने बताया कि राजफैड को 200 करोड़ रूपये प्राप्त हो गए हैं और आगामी दो-तीन दिन में ही किसानों को उनकी फसल का भुगतान कर दिया जाएगा।

पाली की कुश्ती खिलाड़ी मोनी रानी ने भावुक होते हुए मुख्यमंत्री से कहा कि यह भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना का ही वरदान है कि वह आज फिर अपने पैरों पर खड़ी है और कुश्ती खेलकर अपने सपने पूरे कर सकेगी। मोनी रानी राष्ट्रीय स्तर पर कई मैडल जीत चुकी है। उनके पैर में गम्भीर चोट आई थी जिसका आॅपरेशन बीएबीवाई के तहत निःशुल्क किया गया। मोनी रानी ने इसके लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। मुख्यमंत्री ने मीरा और ओमपुरी सहित बीएसबीवाई के तहत लाभान्वित अन्य व्यक्तियों से भी संवाद कर उनके हाल जाने और योजना का फीडबैक लिया। उल्लेखनीय है कि भामाशाह प्लेटफाॅर्म पर एक करोड़ परिवारों को 17 हजार करोड़ रूपये की सहायता से लाभान्वित किया जा चुका है।
राजे राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत जटिल बीमारियों का इलाज करवाकर स्वस्थ हुए बच्चों मोहम्म्द अली, जिगर, महेन्द्र, प्रियंका, पानी देवी, मान्यता, पूजा तथा करण सहित अन्य बच्चों से मिलीं। उन्होंने बच्चों को पास बुलाकर उनके हाल जाने और उन्हें दुलार कर चाॅकलेट दी। मुख्यमंत्री ने उनके परिजनों से भी बात की और बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं। उन्होंने पालनहार योजना, लैपटाॅप एवं स्कूटी वितरण योजना, उज्ज्वला योजना, सामाजिक पेंशन योजना, आवास योजना एवं राजश्री योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से भी बात कर योजनाओं का फीडबैक लिया।

जनसंवाद के दौरान पेंशनरों ने मेडिकल डायरी आॅनलाइन किए जाने की घोषणा के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इससे पेंशनरों को अनावश्यक चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। इस दौरान वरिष्ठ नागरिकों ने बजट घोषणा के अनुरूप 80 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों को रोडवेज बस में निःशुल्क यात्रा सुविधा के आदेश जारी होने पर मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया।

कोई जवाब दें