Olive-Leaf-Tia-Rajasthan
Olive-Leaf-Tia-Rajasthan

-दुनिया की पहली प्रोसेस्ड आॅलिव टी
जयपुर। ओलिटिया फूड्स प्राइवेट लिमिटेड ने यूके और शेष यूरोप में आॅलिव टी के वितरण के लिए ग्रीनलीफ ट्रेडिंग कम्पनी, यूनाइटेड किंग्डम के विन्सेंट टेरेनोवा और गुरदीप सिंह के साथ पार्टनरशिप एग्रीमेंट किया है। प्रथम चरण में वे आॅलिव टी का यूके में वितरण करेंगेे और फिर यूरोप के अन्य देषों में। यह अनुबंध आॅलिव टी की बड़ी मात्रा के लिए किया गया है। ग्रीनलीफ द्वारा टेस्को और सेन्सबरीष्ज जैसे स्टोर्स से भी सम्पर्क करने की योजना है। आज यह जानकारी जयपुर में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में ओलिटिया फूड्स के निदेशकए श्री धरमपाल गढ़वाल और श्रीमती सारिका साहनी ने दी। प्रेस कॉन्फ्रेंस में ग्रीनलीफ ट्रेडिंग कम्पनी के निदेषकए गुरदीप सिंह और चाय विशेषज्ञए अविजित डे ने भी सम्बोधित किया।

ओलिटिया फूड्स द्वारा ष्आॅलिव टी के माध्यम से ष्ग्रीन टीष् का विकल्प तैयार किया है। अनेक वर्षो के अनुंसधान के बाद इन्होंने दुनिया की सर्वप्रथम प्रोसेस्ड आॅलिव टी तैयार की है। यह प्रथम अवसर है जबकि दुनिया में आॅलिव की पत्तियों को तोड़नेए पीसने और कर्लिंग के लिए विषेष मषीन बनाई गई है। उल्लेखनिय है कि वर्ष 2007 में राजस्थान सरकार द्वारा आॅलिव को राज्य की जलवायु के अनुकूल मानते हुए इसकी खेती आरम्भ करवाई थी। इजरायल से प्राप्त तकनीक के माध्यम से यहां 5ए000 हैक्टेयर भूमि पर आॅलिव के पौधे लगाये गये।
आॅलिव टी उपलब्ध कराने के लिए ष्ग्राम 2016ष् में राजस्थान सरकार और आॅलिषिया फूड्स प्राइवेट लिमिटेड के मध्य एक एमओयू किया गया था। आॅलिषिया फूड्स ने इसके लिए 10 करोड रूपए के निवेष का वादा किया था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के किसानों की आय दोगुनी करने के लक्ष्य के तहत यह कदम उठाया गया है।

ओलिटिया फूड्स के निदेषकए धर्मपाल गढ़वाल आषा व्यक्त की कि राजस्थान सरकार के साथ मिल कर आॅलिव की खेती करने वाले किसानों की स्थिति में सुधार होगा। इस तरह की फसलों के आने से किसान परम्परागत फसलों पर निर्भर नहीं रहेंगे और उन्हें अपनी मेहनत का ज्यादा लाभ मिल सकेगा। अन्य फसलों की तरह आॅलिव को मृदु जल की आवष्यकता नहीं होती है। राजस्थान में इस प्रकार के जल की कमी भी है। चूंकि आॅलिव वर्ष भर अंकुरित नहीं होते अतः आॅलिव टी की पत्तियों से किसानों की आय में वृद्धि हो सकती हैए क्योंकि ये 40.50 दिन में आना आरम्भ हो जाती है।

आॅलिव टी को आधुनिक समय का ष्अमृतष् कहा गया हैए क्योंकि इसके स्वास्थ्य लाभ अन्य किसी भी चाय से काफी अधिक है। एंटीआॅक्सीडेंन्ट्स से भरपूर होने कारण यह ष्टीष् त्वचा से टाॅक्सिन और कार्सिनोजन्स को समाप्त कर देती है। इसमें कैफीन नहीं होने के बावजूद यह ताजगी देती है। यह झुर्रियां और मुँहासों का कम कर त्वचा को ष्ग्लोष् प्रदान करती है। यह काॅलेस्ट्रोल और ब्लड प्रेषर को भी कम करती है। इससे प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिससे जुकाम एवं फ्लू से बचाव होता है।

ओलिटिया फूड्स आॅलिव टी के रूप में दुनिया को आधुनिक ष्अमृतष् देने जा रहा है। उनके पास अन्य देषोें जैसे अमेरिका और खाडी देषों से भी एमओयू के लिए प्रस्ताव आ चुके हैं। राजस्थान के किसानों द्वारा उगाया गया यह उत्पाद अब पूरी दुनिया तक पहुंचेगा।

राजस्थान के कृषि मंत्रीए डाॅण् प्रभुलाल सैनी का कहना है कि लैब की जांच से यह प्रमाणित हो गया कि आॅलिव की पत्तियों में ल्यूटेआॅलिन नामक शक्तिषाली एंटीआॅक्सीडेंट होता है। इसके उपयोग से ब्लडए प्रोस्टेट और ओवेरियन कैंसर से बचा जा सकता है। प्रयोगषाला जांच में आॅलिव की पत्तियों में उपलब्ध इन गुणों की जानकारी मिलने के पष्चात् इनके प्रसंस्करण का निर्णय किया गया। ये उन लोगो के लिए भी लाभदायक है जो मानसिक तनावए हृदयरोग आदि से पीडित है।

कोई जवाब दें