Aanganbadi center will be HiTech, CM gives Smartphone to Anganwadi Workers

जयपुर/अजमेर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने अजमेर से प्रदेश के आंगनबाड़ी केन्द्रों को हाईटेक किए जाने की शुरूआत की। उन्होंने आई.सी.डी.एस विभाग की स्निप परियोजना के तहत मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य तथा पोषण की निगरानी को सुदृढ़ करने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकतार्ओं को स्मार्टफोन व टैबलेट दिए। योजना में 9 जिलों में 21 हजार 430 आंगनबाडी कार्यकतार्ओं को एन्ड्रॉइड फोन दिये जा रहे हंै। राजे ने इन्फोर्मेशन कम्यूनिकेशन टेक्नोलॉजी एवं रियल टाइम मॉनिटरिंग कार्यक्रम के तहत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता अन्नपूर्णा पाराशर, शोभना एवं शकुन्तला भाटिया को एन्ड्रॉइड फोन एवं अलका शर्मा व गिरधर कंवर को एंड्रॉयड टेबलेट वितरित किए।

योजना के लागू होने से अजमेर, जयपुर, राजसमन्द, डूंगरपुर, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, अलवर एवं भीलवाड़ा जिलों के आंगनबाडी कार्यकतार्ओं के सभी 11 रजिस्टरों के स्थान पर एक ही रजिस्टर रहेगा। शेष सभी आंकड़े मोबाइल पर रियल टाइम उपलब्ध होंगे। रियल टाइम डाटा उपलब्ध होने की दशा में बेहतर पर्यवेक्षण, नीति क्रियान्वयन एवं नीति निर्धारण की जा सकेगी। योजना के तहत प्रथम चरण के 9 जिलों की 46 परियोजनाओं में 10 हजार 500 आंगनबाडी केन्द्रों के मास्टर टेज्नर का प्रशिक्षण आयोजित किया जा रहा है। माह के अन्त तक दक्ष प्रशिक्षकों द्वारा आंगनबाडी कार्यकतार्ओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा। कार्यक्रम में सार्वजनिक निर्माण एवं परिवहन मंत्राी यूनुस खान, शिक्षा राज्य मंत्राी वासुदेव देवनानी मंत्री, महिला एवं बाल विकास राज्य मंत्राी अनिता भदेल, संसदीय सचिव सुरेश सिंह रावत, संसदीय सचिव शत्राुघ्न गौतम, विधायक शंकरसिंह रावत एवं विधायक भागीरथ चैधरी उपस्थित थे।

कोई जवाब दें