A woman has committed ten years of innocence, three people committed gangrape for many days
नई दिल्ली। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। एक दस साल की मासूम बच्ची के साथ तीन जने कई दिन तक गैंगरेप करते रहे। इस दरिदंगी भरे कृत्य में एक महिला इनका सहयोग करती रही। पीडिता की शिकायत पर भोपाल पुलिस ने दुष्कर्म में लिप्त तीनों अभियुक्तों को पकड़ लिया है। महिला भी पुलिस गिरफ्त में है। मासूम बच्ची महिला के नजदीक रहती थी। महिला सुमन ने पीडित बच्ची को एक दिन घर पर चॉकलेट देने के बहाने बुलाया और वहां एक आरोपी से दुष्कर्म करवाया। किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी दी। फिर दूसरे अन्य आरोपी भी बच्ची से रैप करते रहे। तीन महीने तक बच्ची से गैंगरेप होता रहा। डर व धमकी के चलते बच्ची ने इस बारे में परिजनों को नहीं बताया। महिला सुमन व तीनों आरोपियों ने बच्ची को धमकी दी थी कि अगर किसी को बताया तो वह उसकी मां की हत्या कर देंगे। इस बच्ची के पिता की कुछ महीने पहले मौत हो गई थी। कुछ दिन पहले बच्ची ने हिम्मत करके इस घटना के बारे में अपनी मां को बताया। तब मां बेटी को लेकर थाने गई और आरोपियों के खिलाफ शिकायत दी। पुलिस ने तीनों जनों को गिरफ्तार कर लिया है। इस घटना के बाद से लोगों में जबरदस्त गुस्सा है। यह गुस्सा तब फूट गया जब आरोपियों को घटनास्थल की तस्दीक करवाने के लिए उन्हें महिला सुमन के घर पर लाया गया तो गुस्साए लोगों ने आरोपियों पर हमला कर दिया। बमुश्किल पुलिस ने उन्हें बचाकर लाई। आरोपियों ने गैंगरेप की बात स्वीकार कर ली है।

कोई जवाब दें