vasundhara

कांग्रेस ने खेला बड़ा दांव, वसुंधरा राजे को घेरने के लिए मानवेन्द्र सिंह को झालरापाटन से टिकट दिया
दीपक शर्मा
जयपुर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को उनके विधानसभा झालरापाटन में ही घेरने के लिए कांग्रेस ने बड़ा दांव खेला है। भाजपा से कांग्रेस में शामिल हुए पूर्व केन्द्रीय मंत्री जसवंत सिंह के पुत्र मानवेन्द्र सिंह को वसुंधरा राजे के सामने टिकट दिया है। मानवेन्द्र सिंह को टिकट की घोषणा के साथ ही यह सीट राजस्थान की सबसे हॉट बन गई है। मानवेन्द्र सिंह की घोषणा को एक तरह से चैलेंज के तौर पर देखा जा रहा है। मानवेन्द्र के पिता भाजपा के दिग्गज नेता जसवंत सिंह की सीएम राजे से पिछले एक दशक से चली आ रही अदावत किसी से छुपी हुई नहीं है। राजे के कारण जसवंत सिंह का टिकट जैसलमेर बाडमेर संसदीय सीट से कटा। जसोल परिवार इस अपमान को भूल नहीं पाया है। जसोल परिवार के साथ मारवाड़ के राजपूत, मुस्लिम व दूसरी जातियां भी साथ रही है। ऐसे में सीएम राजे के सामने खड़े होकर मानवेन्द्र सिंह के परिवार ने चेता दिया है कि वे पिता के अपमान को भूले नहीं है। साथ ही कांग्रेस ने भी मानवेन्द्र के बहाने बड़ा दांव लगा दिया है। वसुंधरा राजे के सामने कांग्रेस को कोई मजबूत प्रत्याशी आज तक नहीं मिला है। लेकिन मानवेन्द्र सिंह की घोषणा के साथ ही यह सीट ना केवल हॉट बन गई, बल्कि प्रतिष्ठा से भी जुड़ गई है। इस सीट पर राजपूत समाज के साथ मुस्लिम, एससी, माली, गुर्जर बड़ी तादाद में है। सीएम वसुंधरा राजे के नामांकन पत्र भरने के दौरान कांग्रेस ने मानवेन्द्र सिंह की घोषणा की थी। इस घोषणा भाजपा के नेता सकते में है। मानवेन्द्र सिंह के आने से भाजपा और सीएम राजे के समर्थकों को क्षेत्र में ज्यादा मेहनत करनी पड़ेगी। कांग्रेस भी इस सीट को जीतने के लिए जी-जान से जुटेगी। अब देखना है कि कांग्रेस और मानवेन्द्र सिंह का यह दांव कितना सफल हो पाता है या नहीं। सात दिसम्बर को मतदान और फिर ग्यारह दिसम्बर को मतगणना में राजस्थान के साथ इस हॉट सीट की तस्वीर भी साफ हो जाएगी।

हजारों समर्थकों के साथ सीएम राजे ने पर्चा भरा
जयपुर। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने शनिवार को विधानसभा चुनाव के लिए झालरापाटन सीट से नामांकन दाखिल किया। इससे पहले उन्होंने श्रीराड़ी बालाजी में पूजा-अर्चना की। पर्चा दाखिल करने के मौके पर केन्द्रीय मंत्री शाहनवाज हुसैन भी मौजूद रहे। राजे इस सीट से चौथी बार चुनाव लड़ रही हैं। हजारों समर्थकों की मौजूदगी में राजे ने पर्चा दाखिल किया। पिछले विधानसभा चुनाव में झालरापाटन सीट से राजे ने कांग्रेस की मीनाक्षी चंद्रावत को 60896 वोट से हराया था। राजे को 114384 और मीनाक्षी को 53488 वोट मिले थे। मीनाक्षी चंद्रावत हरीगढ़ के पूर्व महाराजा धनसिंह चंद्रावत की बेटी हैं। इससे पहले 2008 में राजे कांग्रेस के मोहन लाल को हराया था। 2003 में भी इस सीट से जीत दर्ज की थी। भाजपा नेता शाहनवाज हुसैन ने बताया कि भाजपा धर्म के नाम पर सीट नहीं देती। भाजपा ने अभी तक 170 प्रत्याशियों की सूची जारी की है। इसमें एक भी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया है।

कोई जवाब दें