नई दिल्ली। स्वतंत्रता दिवस के मौका एक कैदी के लिए खुशिया लेकर आया। हुआ यूं कि 15 अगस्त के अवसर पर पूणे की येरवडा जेल में मनाए जाने वाले जश्न में। जब 3000 हजार कैदियों के सामने गाने के लिए बुुलाया तो उसने ऐसा गाना गाया की सभी उसकी गायकी के कायल हो गए। इस दौरान फिल्म ”लखनऊ सेंट्रल” की स्टारकास्ट ने 15 अगस्त के दिन स्वतंत्रता दिवस पुणे स्थित येरवडा जेल के कैदियों के साथ मनाया। इस मौके पर ”लखनऊ सेंट्रल” की स्टारकास्ट फरहान अख़्तर, दीपक डोबरियाल सहित अन्य ने परफॉर्म किया।

फरहान ने ”रॉकआॅन” और ”जिंदगी ना मिलेगी दोबारा” जैसे गीतों को आवाज देकर सबका दिल जीत लिया। लेकिन कैदियों को ज्यादा अच्छा तब लगा जब उन्ही के साथ सजा काट रहे एक कैदी नितिन अरोड़े ने अपनी गायकी का नमूना पेश किया। नितिन ने ‘अभी न जाओ छोड़ कर’ गीत सुनाया जिसे सुनकर वहां मौजूद हर व्यक्ति उनकी गायकी से प्रभावित हुआ। इसलिए कार्यक्रम के दौरान नितिन की गायकी और उनकी प्रतिभा को देखते हुए जेल की डीआईजी स्वाति साठे ने नितिन की पूरी सजा में से 2 महीने की सजा कम करने की घोषणा की। तो इस प्रकार लखनऊ सेंट्रल फिल्म के बहाने नितिन को पूरी सजा में से 2 महीने सजा की माफी मिल गई।

कोई जवाब दें