bikaner, congress President, Yashpal Gehlot, Congress leader, Gopal Gehlot, supporters, Bikaner city, got stigma,refuse
bikaner, congress President, Yashpal Gehlot, Congress leader, Gopal Gehlot, supporters, Bikaner city, got stigma,refuse

जयपुर। कांग्रेस में टिकटों की लड़ाई अब सड़क पर दिखने लगी है। जयपुर के बाद अब बीकानेर में भी कांग्रेस नेताओं व समर्थकों में जमकर लात-घूंसे चले हैं। शुक्रवार देर रात को बीकानेर शहर में शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल गहलोत और कांग्रेस नेता गोपाल गहलोत के समर्थकों के बीच लाठी-भाटा जंग हो गई। इस दौरान दोनों नेताओं के समर्थकों में जमकर लात-घूंसे चले। गाडियों में भारी तोडफोड़ की गई।

एक कार, मोटर साइकिल समेत कुछ गाड़ियों में आग तक लगा दी गई। अचानक हुई इस लड़ाई झगड़े से पुलिस प्रशासन भी भौचक्का रह गया। हालांकि पुलिस ने दल-बल के साथ पहुंचकर स्थिति संभाली और झगड़ रहे कार्यकर्ताओं को खदेड़ा। हालांकि दोनों ही पक्ष की ओर से कोई मामला दर्ज नहीं हुआ है। पुलिस जलाए गए वाहनों को सड़क से हटाकर जब्त कर लिया है। उन वाहनों के नम्बरों के आधार पर पुलिस मालिकों से पूछताछ करेगी। बताया जाता है कि गोपाल गहलोत और यशपाल गहलोत बीकानेर शहर की एक सीट से चुनाव लड़ने चाहते हैं। टिकट के लिए दोनों ही नेताओं व समर्थकों में जबरदस्त तैयारियां चल रही है।

पहले भी कांग्रेस कार्यक्रमों में दोनों नेताओं के बीच तीखी नोंकझोंक हो चुकी है और समर्थक आपस में भिड़ चुके हैं। गौरतलब है कि विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस में टिकट दावेदारों के बीच लड़Þाई झगड़े होने लगे है। हाल ही जयपुर के शाहपुरा में मेरा बूथ मेरा गौरव कार्यक्रम के दौरान शाहपुरा के दो दावेदारों में जमकर लात-घूंसे चले थे। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता संदीप चौधरी के साथ मारपीट की गई थी। पीसीसी चीफ सचिन पायलट ने शाहपुरा कांग्रेस अध्यक्ष बंशीधर सैनी को पार्टी से निष्कासित कर दिया था। जैसे जैसे चुनाव नजदीक आएंगे, वैसे ही इस तरह के मामले सामने आ सकते हैं।

कोई जवाब दें