Bahujan Azad Party (BAP)
Bahujan Azad Party (BAP)

जयपुर। देश की भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थानों (आईआईटी) के पचास पूर्व छात्रों ने एक राजनीतिक दल बनाया है। उच्च शिक्षा प्राप्त इन आईआईटीयन ने अपनी नौकरियां छोड़कर बहुजन आजाद पार्टी (बीएपी) बनाई है। यह दल अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों और अन्य पिछड़ा वर्ग के अधिकारों की लड़ाई लड़ेगा। इस दल से जुड़े लोगों ने जमीनी स्तर पर काम भी शुरु कर दिया है।

चुनाव आयोग से पंजीयन करवाने के लिए अर्जी लगा रखी है, जल्द ही इसे मंजूरी मिलने की संभावना है। बीएपी यानि बाप लोकसभा और विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी उतार सकता है। फिलहाल उसकी नजर बिहार विधानसभा चुनाव है, जो वर्ष 2019 में है। अगर इससे पहले यह दल मजबूती से जम गया तो लोकसभा चुनाव में भी दल प्रत्याशी उतार सकता है। इस दल का नेतृत्व कर रहे नवीन कुमार का कहना है कि पचास आईआईटीयन ने यह दल बनाया है, जिन्होंने अपनी नौकरियां छोड़कर राजनीति में उतरने का फैसला किया है। हम आनन-फानन में चुनावी मैदान में उतरने के बजाय पहले जमीनी स्तर मजबूत कर रहे हैं। हम बड़ा विचार और उद्देश्य लेकर चल रहे हैं। ऐसा कोई कदम नहीं उठाएंगे, जिससे हमें शुरुआत में परेशानी हो। हम शिक्षा, रोजगार और बेहतर जीवन स्तर के मुद्दे के साथ जनता के बीच जाएंगे और उनके लिए संघर्ष करेंगे। सोशल मीडिया के माध्यम से पार्टी का प्रचास प्रसार करेंगे और हर राज्य में इकाईयां गठित करेंगे।

कोई जवाब दें