ladakee ke jarie avaidh

जयपुर। मोबाइल फोन के जरिए दोस्ती कराकर बाद में अश्लील वीडियो बना कर अवैध वसूली करने के अपराध में एक दिसम्बर को गिरफ्तार किए गए किशन निठारवाल निवासी रींगस-सीकर की निचली अदालत ने पुन: जमानत अर्जी खारिज कर दी। किशन की इससे पहले 11 दिसम्बर को जमानत खारिज हुई थी। अभियुक्त को जाली नोट कोर्ट से 14 दिसम्बर तथा 17 दिसम्बर को हाईकोर्ट से भी जमानत नहीें मिली थी। अभियुक्त ने अब कोर्ट में परिवादी से राजीनामा पेश किया है। इस मामले में पुलिस श्यामलाल शर्मा, अरुणा कुमारी उर्फ अन्नू तथा सुमन उर्फ सोनू को भी गिरफ्तार कर चुकी है। युवती के साथ अश्लील वीडियो बनाकर 5 लाख रुपए मांगे थे। 6 हजार रुपए, घड़ी, वाहन की आरसी छीनकर कई खाली कागजों पर हस्ताक्षर करवाए थे।

कोई जवाब दें