Water shortage

जयपुर। गर्मी में पेयजल की बढ़ती मांग को देखते हुए मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के निर्देश पर जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग ने पेयजल व्यवस्थाएं और अधिक मजबूत की है। जयपुर में पहले प्रतिदिन करीब 52 करोड़ लीटर पेयजल की आपूर्ति की जा रही थी, अब 50 लाख लीटर पेयजल की अतिरिक्त आपूर्ति शुरू कर दी है। अब कुल 52 करोड़ 50 लाख लीटर पानी जयपुर शहर में सप्लाई किया जा रहा है।

अतिरिक्त मुख्य अभियंता दिनेश सैनी ने बताया कि पेयजल की बढ़ती मांग को देखते हुए नॉन कनेक्टेड क्षेत्रों में टैंकरों की संख्या में भी बढ़ोतरी की गई है। अभी 257 टैंकरों के माध्यम से 2 हजार 74 ट्रिप्स करके लोगों को पेयजल पहुंचाया जा रहा है। टैंकरों पर प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी में जीपीएस सिस्टम भी लगाया गया है। बीसलपुर पेयजल परियोजनाओं से अछूत क्षेत्रों में नलकूपों के माध्यम से जलापूर्ति की जा रही है। वतर्मान में 2 हजार 168 नलकूपों से 70 एमएलडी पानी का उत्पादन कर वितरण किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछली गर्मी के मुकाबले इस बार 153 अतिरिक्त नलकूपों से शहरभर में जलापूर्ति की जा रही है।

जलदाय विभाग ने जगतपुरा, प्रताप नगर, महल रोड के आस-पास के क्षेत्र में पेयजल उपलब्ध कराने के लिए 2000 लीटर क्षमता के 130 पीवीसी टैंक विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर स्थापित किए हैं, जिनमें टैंकरों के माध्यम से नियमित जलापूर्ति की जा रही है। वार्ड 47 के कुछ इलाकों में जहां पेयजल की किल्लत थी, वहां 5 नलकूप लगाए गए हैं।

कोई जवाब दें