killed

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पहलू खान प्रकरण में हाल ही आए न्यायालय के निर्णय को लेकर शुक्रवार शाम मुख्यमंत्री कार्यालय मेें उच्च अधिकारियों के साथ विस्तार से समीक्षा की।
इस दौरान गहलोत ने इस प्रकरण के घटनाक्रम एवं अनुसंधान में रही त्रुटियों पर विस्तार से चर्चा की। बैठक में निर्णय किया गया कि अधीनस्थ न्यायालय के निर्णय पर अपील की जाए, जिसमें एक वरिष्ठ अधिवक्ता की सेवाएं ली जाएंगी। सम्पूर्ण प्रकरण की जांच के लिए एडीजी क्राइम की निगरानी में स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम (एसआईटी) का गठन किया जाएगा। यह एसआईटी 15 दिन में अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी।

एसआईटी अनुसंधान में रही त्रुटियों एवं अनियमितताओं को चिन्हित कर इनके लिए अधिकारियों की जिम्मेदारी भी तय करेगी। यह एसआईटी ऎसे महत्वपूर्ण मौखिक एवं दस्तावेजी साक्ष्यों को भी एकत्रित करेगी, जो प्रकरण में एकत्रित नहीं किए गए।

इस एसआईटी का नेतृत्व उप महानिरीक्षक एसओजी श्री नितिनदीप बल्लगन करेंगे तथा इनके साथ एसपी सीआईडी सीबी श्री समीर कुमार सिंह तथा एएसपी विजिलेंस समीर दुबे टीम में शामिल होंगे।
समीक्षा के दौरान अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह राजीव स्वरूप, पुलिस महानिदेशक भूपेन्द्र सिंह, प्रमुख शासन सचिव विधि महावीर प्रसाद शर्मा, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अपराध बीएल सोनी उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY