वाराणसी। धार्मिक नगरी के तौर पर ख्यात वाराणसी में शनिवार का दिन पूरी तरह राजनीति के नाम ही रहा। सुबह जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रोड शो करते हुए सड़कों से गुजरे। वहीं कुछ घंटों बाद सीएम अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी साझा तौर पर विकास के रथ पर सवार होकर रोड शो के जरीए जनता के बीच पहुंचे। इससे पहले वे आगरा, इलाहबाद, झांसी में साझा रोड-शो कर चुके हैं। रोड शो की शुरुआत अखिलेश और राहुल ने बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर माल्यार्पण करते हुए की। इस दौरान भारी जनसैलाब उनके आगे पीछे चल रहा था। मार्ग में जगह-जगह पुष्प वर्षा कर उनका स्वागत किया गया। रोड शो जब चौकाघाट के समीप पहुंचा तो समीप ही दो मकानों से पत्थर व चप्पलें फैंकी गई। उस दरम्यान राहुल और अखिलेश का वाहन कुछ कदम की दूरी पर था। इस दोनों ही मकानों पर भाजपा का झंडा फहरा रहा था। जब कार्यकर्ताओं पर पत्थर व चप्पलें गिरी तो यह देखकर वे मकानों की ओर लपके। लेकिन पुलिस ने मकानों को घेरकर अपने कब्जे में लिया और रोड शो को आगे की ओर रवाना कराया। रोड शो के दोषीपुरा पहुंचने पर डिंपल यादव भी शामिल हो गई। करीब आठ किमी. के रोड शो के रास्ते में भारी हुजूम उमड़ा। दोनों ही नेताओं ने महामना मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा तक करीब 8 किमी. की दूरी तय की।

-जनप्रहरी एक्सप्रेस की ताजातरीन खबरों के लिए हमसे जुड़े रहने के लिए यहां लाइक करें।

कोई जवाब दें