acb trap
acb trap

जयपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो राजस्थान ने गुरुवार शाम को बड़ी कार्रवाई करते हुए एक नायब तहसीलदार और पटवारी को रिश्वत लेने के आरोप में धरा है। ब्यूरो की अलवर टीम ने यह थानागाजी में कार्रवाई की है। नायब तहसीलदार और पटवारी को एक लाख चालीस हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा है। नायब तहसीलदार का नाम भगवान सहाय है और पटवारी का नाम नंदराम है। ये दोनों थानागाजी में तैनात है। परिवादी प्रवीण कुमार शर्मा की शिकायत पर यह कार्रवाई हुई है।

प्रवीण ने शिकायत में बताया कि उसने मुंडावर नारायणपुर अलवर में १९बीघा भूमि रिसोर्ट व होटल के लिए खरीदी है। इस भूमि को आवासीय विला में तब्दील करने के लिए तहसीलदार भगवान सहाय के यहां अर्जी लगाई। इस पर भगवान सहाय और पटवारी नंदराम ने दो लाख रुपए चालीस हजार रुपए मांगे। सौदा एक लाख चालीस हजार रुपए में तय हुआ। प्रवीण ने इसकी शिकायत एसीबी के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सेलम मोहम्मद को की। शिकायत सही पाए जाने पर एसीबी ने एक लाख चालीस हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए नायब तहसीलदार और पटवारी को गिरफ्तार किया।

कोई जवाब दें