नोएडा। अपने बेटे की शादी करने के लिए लोगों को क्या-क्या नहीं करना पड़ता। यहां तक की झूठ की हद पर भी आ जाए तो कोई गुरेज नहीं करते। ऐसा ही एक वाकिया नोएडा के रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के गांव नंगला श्रीगोपाल में देखने को मिला। जहां एक व्यक्ति ने अपने बेटे की शादी कराने के लिए दुल्हन पक्ष को झूठ बोला कि उसका खुद का मकान है।

बाद में यह पोल खुली तो उसे बिना दुल्हन ही वापस लौटना पड़ा। हुआ यूं कि रबूपुरा कोतवाली क्षेत्र के गांव नंगला श्रीगोपाल निवासी राकेश की बेटी की शादी दिल्ली निवासी एक युवक से होना तय हुआ। शादी से पहले उसको यह बताया गया कि उसका खुद का मकान है। शनिवार को तय कार्यक्रम के अनुसार बारात रबूपुरा आ गई। बारात के गांव पहुंचने के साथ ही राकेश को यह पता चला कि दूल्हे का दिल्ली में अपना कोई मकान ही नहीं है। उसे इस मामले में झूठ बोला गया। वह तो दिल्ली में किराए से रहता है।

बस फिर क्या था मामला भड़का और राकेश ने उसकी बेटी की शादी उस युवक के साथ करने से इंकार कर दिया। यहा मामला बढ़ा तो बात मारपीट की नौबत आ गई। दूल्हे पक्ष की आरोप लगाया गया कि उनके साथ बारात में आई महिलाओं के साथ अभद्र व्यवहार किया गया। बाद में इस मामले में पंचायत बैठी। जो पूरी रात चली। रविवार की सुबह निष्कर्ष निकला कि बारात तो बिना दुल्हन ही वापस जाएगी। जिस पर बारातियों को बिना दुल्हन ही वापस लौटना पड़ा।

कोई जवाब दें