karnal raajyavardhan sinh raathaud ne akhil bhaarateey pulis nishaanebaajee pratispardha, 2018 ke samaapan samaaroh mein shaamil hue

दिल्ली. दिल्ली पुलिस की पुलिस परिवार कल्याण सोसायटी ने 03 और 04 जनवरी, 2019 को ‘मिशन ओलंपिक्स स्पोर्ट्स मीट – 2019’ का आयोजन किया। स्पोर्ट्स मीट में दिल्ली के छह विभिन्न स्थानों पर छह विभिन्न वर्गों की खेल प्रतियोगिता हुईं। आज अंबेडकर स्टेडियम में समारोह का समापन हुआ, जिसमें युवा मामलों एवं खेल तथा सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कर्नल राज्यवर्धन राठौड़ विशेष रूप से उपस्थित थे।

आयोजकों, प्रतिस्पर्धियों और विजेताओं को बधाई देते हुए कर्नल राठौड़ ने कहा कि सरकार देश में खेल संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए अनेक कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार प्रयास कर रही है कि कम उम्र में ही खिलाड़ियों की प्रतिभा पहचानी जा सके, ताकि उन्हें विश्वस्तरीय चैंपियन बनाने के लिए उचित प्रशिक्षण दिया जा सके। उन्होंने बताया कि 8 और 12 वर्ष के बीच के दो करोड़ बच्चों की शारीरिक जाँच जल्द शुरू की जाएगी। इसके आधार पर उनमें से प्रशिक्षण के लिए एक हजार बच्चों को चुना जाएगा। ये बच्चे जब 18 साल के हो जाएंगे, तो वे अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने के लिए तैयार हो जाएंगे।

कर्नल राठौड़ ने कहा कि 9 तारीख से पुणे में दूसरा ‘खेलो इंडिया गेम्स’ आयोजित किया जाएगा, जिसमें 9500 से अधिक युवा एथलीट हिस्सा लेंगे। उन्होंने कहा कि भारत युवाओं को अच्छा नागरिक और अच्छा इनसान बनना चाहिए। इसके लिए स्वच्छ शरीर और तेज दिमाग की जरूरत होती है, जो खेल के मैदान से प्राप्त होने वाले अनुभव के आधार पर संभव होता है। उन्होंने इस कार्यक्रम के आयोजन के लिए दिल्ली पुलिस के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने पुलिस परिवार कल्याण सोसायटी की प्रशंसा की कि वह आगामी ओलंपिक्स गेम्स – 2020 के मद्देनज़र देश के प्रति अपनी सामाजिक जिम्मेदारी निभा रही है।

उल्लेखनीय है कि इस स्पोर्ट्स मीट में सात एथलेटिक टीमों, चार बैडमिंटन टीमों, सात फुटबॉल टीमों, दो कबड्डी टीमों, तीन कुश्ती टीमों ने हिस्सा लिया, जो दिल्ली के विभिन्न क्लबों और संघों से जुड़ी हैं। इनके अलावा स्पोर्ट्स मीट में 20 निशानेबाजों ने भी हिस्सा लिया।

कोई जवाब दें