saiyan lodha in RCS election
saiyan lodha, RCA elections,

सिरोही। 62वीं जिला स्तरीय खो-खो माध्यमिक – उच्च माध्यमिक 17 व 19 वर्षीय छात्र खेल कूद प्रतियोगिता का समापन पूर्व विधायक संयम लोढा के मुख्य अतिथ्य, पंचायत समिति प्रधान जीवाराम आर्य की अध्यक्षता एवं उप प्रधान मोटाराम देवासी, डाॅं. संजय मीणा, कैलाशनगर के नोडल अधिकारी नारायण पुरोहित तथा कांग्रेस व्यापार एवं उद्योग प्रकोष्ठ के जिला अध्यक्ष प्रताप माली के विश्ष्ठि अतिथ्य में उपखण्ड क्षेत्र के नारादरा गांव के खेल मैदान में हुआ हैं । जिसमें 17 वर्ष आयु वर्ग में गोयली एवं 19 वर्ष आयु वर्ग में अरठवाडा ने खिताब जिता । दोनो टीमों के खिलाडियों को अतिथियों ने मेडल पहनाकर विजेता की शिल्ड प्रदान की ।

समापन समारोह को संबोधित करते हुये पूर्व विधायक संयम लोढा ने कहा कि खेल मनुष्य के जीवन का एक महत्वपूर्ण अंग हैं जिसे स्कूली स्तर से इसलिए लागू किया गया हैं कि इससे जीवन भर मनुष्य का जुडाव रहे ताकि वह स्वस्थ एवं निरोगी रह सके । उन्होने कहा कि देश के प्रथम प्रधानमंत्री पण्डित जवाहर लाल नेहरू ने खेलों को लेकर जो भावना व्यक्त की थी कि खेल को खेल की भावना से खेले उसका आज के विधार्थियों मे व्यापक असर देखने को मिला हैं । लोढा ने कहा कि विधार्थियों को उनके रूचि के अनुसार अपना भविष्य बनाने के लिए स्वतंत्र छोडना चाहिए। वर्तमान में खेल, संगीत, नृत्य, सूचना प्रौधोगिकी, व्यापार सहित कई ऐसे क्षेत्र हैं जहा पर व्यक्ति काम करके नई ऊचाईयों तक पहुॅच सकता हैं और अपनी आजिवीका बेहद सून्दर बना सकता हैं । उन्होने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं से कहा कि वे अपनी लडकियों को उच्च शिक्षा दिलवाये ताकि उनका भविष्य भी अच्छा हो सके । समारोह अध्यक्ष पंचायत समिति प्रधान जीवाराम आर्य ने कहा कि स्कूलों मे गिरता हुआ खेलो का स्तर काफी चिन्तनीय हैं जो प्रतियोगिता के माध्यम से दिखाई पडता हैं । जिले में सरकारी और निजी स्कूले मिलाकर करीबन 300 स्कूले लेकिन प्रतियोगिता मात्र 15 टीमों ने ही भाग लिया हैं जिसमें भी सभी सरकारी विधालय हैं । उन्होने कहा कि खेल मे व्यक्ति तभी महारत हासिल कर सकता हैं जब उसमें निरन्तरता हो । विश्ष्टि अतिथि उप प्रधान मोटाराम देवासी ने कहा कि प्रतियोगिता से व्यक्ति में प्रतिस्पर्धा विकसित होती हैं और प्रतिस्पर्धा से जो सफलता मिलती हैं वह हमेशा मनुष्य के मन, मस्तिष्क को प्रसन्न रखने के साथ ही सुख की अनुभूति का आभास कराती हैं। इस प्रतियोगिता सचिव एवं माध्यमिक विधालय नारादरा के प्रधानाचार्य रमेश कुमार रावल ने इस अवसर पर प्रतिवेदन प्रस्तुत किया तथा प्रतियोगिता के लिए नियुक्त समन्वयक नारायण पुरोहित ने भी सफल आयोजन के लिए ग्रामीणों, खिलाडियों एवं निर्णायकांे का आभार व्यक्त किया । चार दिवसीय प्रतियोगिता में हुये मुकाबले में 19 वर्ष आयु वर्ग में अरठवाडा प्रथम, गोयली द्वितीय एवं नवारा तृतीय स्थान पर रहे । इसी तरह 17 वर्ष आयु वर्ग में गोयली प्रथम, दौलपुरा द्वितीय एवं मारोल तृतीय स्थान पर हैं । दोनो आयु वर्ग में प्रतिभागी उत्कृष्ठ खिलाडियों का चयन कर जिला स्तरीय टीम बनाई गई हैं जो आगामी दिनों राज्य स्तरीय प्रतियोंगिता में जिले का प्रतिनिधित्व करेगी । इस अवसर पर पूर्व सरपंच रामलाल पुरोहित, मदनसिंह देवडा, पूनाराम घांची, हेमसिंह सोलंकी, महेन्द्रसिंह, बाबाराम मीणा सहित विधालय के शिक्षक उपस्थित थे । समापन समारोह का संचालन मांगीलाल मेघवाल ने किया । आरम्भ मे अतिथियों का साफा, माला व स्मृति चिन्ह के साथ सौमईया कर स्वागत किया गया ।

 

मुख्तियार उर्फ बाबुभाई

कोई जवाब दें