Mayawati

बुलंदशहर। समाजवादी पार्टी में चल रही खिंचतान के बीच मायावती ने मुस्लिमों को अपना वोट बहुजन समाजवादी पार्टी को देने की अपील की। शहर में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने कहा कि समाजवादी पार्टी को वोटर इस बार शिवपाल व अखिलेश के बीच बंट जाएगा। मतदाताओं के विभक्त होने के कारण ही सपा के प्रत्याशी हारेंगे। ऐसी स्थिति में अल्पसंख्यक मतदाता सपा के साथ गए तो उनका वोट निश्चित तौर पर बेेकार ही जाएगा। जिसका सीधा-सीधा लाभ भाजपा को मिलेगा। जो भाजपा की जीत का कारण बन सकता है। बसपा की सरकार ने उत्तरप्रदेश में जो कार्य किए। समाजवादी पार्टी उनको अपना नाम दे रही है। सपा में मचे घमासान के बीच मुलायम का पुत्रमोह जाग उठा तो उन्होंने शिवपाल का साथ छोड़ दिया। अब शिवपाल व अखिलेश के खेमे के लोग एक दूसरे को चुनाव हराने के लिए काम करेंगे। इन परिस्थितियों के बीच अल्पसंख्यक समाजवादी पार्टी को वोट देते हैं तो भाजपा जीतेंगी और प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी। इसलिए अल्पसंख्यक अपना ध्यान न भटकाएं और बसपा को वोट दें। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार ने चुनावों में जो वादे किए, वो पूरे नहीं किए गए। कालेधन के नाम पर नोटबंदी कर दी। जिससे 90 प्रतिशत गरीब तबके से जुड़े लोगों को विशेषकर मजदूर व किसान प्रभावित हुए। बाजार में रोजगार नहीं रहा तो करोड़ों लोग बेरोजगार हो गए। जबकि अपने चेहेतों, बिजनेसमैन व नेताओं के पैसों को पहले ही ठिकाने लगा दिया। हाल ही पेश किए गए बजट में यह तथ्य भी नहीं बताया गया कि नोटबंदी के बाद कितना काला एकत्रित हुआ।

कोई जवाब दें