जयपुर। भाजपा के वरिष्ठ नेता और विधायक घनश्याम तिवाड़ी के मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के खिलाफ आरोप-प्रत्यारोप लगाने, प्रदेश में नई राजनीतिक शक्ति के गठन और उसके लिए क्रांति रथ यात्रा शुरु कर देने से भाजपा खेमे में खलबली मची हुई है। वहीं पार्टी प्रदेश नेतृत्व इसे अनुशासनहीनता मानते हुए इस पूरे मामले की रिपोर्ट केन्द्रीय नेतृत्व और केन्द्रीय अनुशासन समिति को भेज चुका है। विधायक घनश्याम तिवाड़ी के इस कदम और आज से शुरु की गई क्रांति रथ यात्रा के बारे में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी ने मीडिया को बयान दिया है कि पूरे मामले को देखा जा रहा है और इसकी रिपोर्ट केन्द्रीय अनुशासन समिति को भेज दी है। आज नहीं तो कल तिवाड़ी के खिलाफ केन्द्रीय अनुशासन समिति कोई ना कोई फैसला जरुर लेंगी।

फिलहाल यह मामला केन्द्रीय नेतृत्व और केन्द्रीय अनुशासन समिति के पास है और वे ही इसमें निर्णय करेंगे। उधर, घनश्याम तिवाड़ी के आज से शुरु की गई क्रांति रथ यात्रा से पार्टी में अंदरखाने खलबली मची हुई है। अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के लिए यह एक बड़ा धक्का माना जा रहा है। भविष्य में ओर भी कई असंतुष्ट नेताओं के मुखर होने की संभावना है और वे भी घनश्याम तिवाड़ी के साथ या अलग कोई राह पकड़ सकते हैं। पार्टी नेतृत्व को भी इसकी भनक है। जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएंगे, वैसे ही पार्टी में नाराजगी और असंतुष्ठ नेताओं की गतिविधियां तेज होगी।

LEAVE A REPLY