kaise door hoga baandeekuee kasbe ka peyajal sankat ?, 50 laakh ke tyoobavailon mein graameenon ne bhar die patthar

जयपुर। जलदाय विभाग में भ्रष्टाचार के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। विभाग में मिलीभगत से फर्जी भुगतान और भ्रष्टाचार के मामलों के बाद अब इंजीनियर्स-कर्मचारियों द्वारा ठेकेदारी करने के मामले भी सामने आने लगे हैं। जलदाय विभाग के भीनमाल खण्ड के रानीवाड़ा उपखण्ड सहायक अभियंता रामखिलाड़ी जाटव और हैल्पर गेनाराम पर विभाग में ही ठेकेदारी करने के साथ भ्रष्टाचार करने के आरोप लगे हैं। रानीवाड़ा उपखण्ड में फर्जी तरीके से लोरिंग-अनलोरिंग, पाइपलाइन लीकेज मरम्मत का कार्य, हैण्डपंप मरम्मत का कार्य दिखाकर एईएन रामखिलाड़ी जाटव द्वारा हैल्पर गेनाराम के साथ मिलकर लाखों रूपए का फर्जी भुगतान उठाया जा रहा है। मामले को लेकर जलदाय मंत्री सुरेन्द्र गोयल और प्रमुख शासन सचिव रजत कुमार मिश्र तक शिकायत पहुंची हैं। दरअसल जलदाय विभाग के रानीवाड़ा उपखण्ड में सहायक अभियंता रामखिलाड़ी जाटव, कनिष्ठ अभियंता प्रभूराम लीलावत, हैल्पर गैनाराम द्वारा मिलकर लोरिंग-अनलोरिंग कार्य, पाइपलाइन लीकेज मरम्मत कार्य, हैण्डपंप मरम्मत कार्य, समर्सिबल-मोनोब्लॉक पंपसैट मरम्मत कार्य और ट्यूबवैल निर्माण जैसे कार्यों में जमकर फर्जीवाड़ा किया जा रहा है।

ये सभी कार्य दूसरी फर्मों के नाम से सहायक अभियंता जाटव और गैनाराम द्वारा मिलकर करना बताकर फर्जी भुगतान उठाया जा रहा है। इन कार्यों में हैल्पर गैनाराम की जीप आरजे-16, टी-2170 जो गैनाराम की पत्नी भीखीदेवी के नाम से है, के माध्यम से किया जा रहा हैै। इस जीप की ड्राइविंग गैनाराम खुद करता है और ड्राइवर के फर्जी हस्ताक्षर कर भुगतान उठाया जाता है। गैनाराम द्वारा यात्रा भत्ता भी उठाया जा रहा है, जबकि गैनाराम कभी भी अपने मूल पद पर नौकरी करने नहीं गया, फिर भी उसके वेतन का भुगतान उठ रहा है। विभाग में गैनाराम की दूसरी गाड़ी आरजे-10 सी-0711 जो लोरिंग-अनलोरिंग मशीन के रूप में विभाग में लगी हुई है। हैण्डपंप और ट्यूबवैल की लोरिंग-अनलोरिंग के फर्जी कार्यों का भुगतान इसी गाड़ी के नाम से उठाया जाता है। रानीवाड़ा उपखण्ड में चल रहे लाखों रूपए के भ्रष्टाचार और विभाग के इंजीनियर-कर्मचारी द्वारा ठेकेदारी करने के मामले की शिकायत विभाग के प्रमुख शासन सचिव रजत कुमार मिश्र से की गई है। ऐसे में अब देखने वाली बात होगी कि जलदाय विभाग में इस भ्रष्टाचार के मामले में प्रमुख सचिव रजत मिश्र कोई कार्रवाई करते हैं या फिर अन्य मामलों की तरह लीपापोती कर इस मामले को भी दबा दिया जाएगा।

कोई जवाब दें