General-VK-Singh

जयपुर: विदेश राज्य मंत्री जनरल वी.के सिंह ने आज कहा कि वह दुर्घटनावश राजनीति में आ गये। जनरल (सेवानिवृत्त) सिंह ने यहां एक डिम्ड विश्वविद्यालय के दीक्षान्त समारोह में कहा, ‘‘सेवानिवृत्ति के बाद समाज सेवा करने की मेरी इच्छा थी और ऐसे में उस दौरान चल रहे अन्ना हजारे के आंदोलन से मैं जुड़ गया। कुछ समय बाद मुझे लगा कि यह मंच राजनीति से जुड़ गया है तो मैं इससे अलग हो गया। लेकिन अचानक ऐसा मौका आया कि मैं दुर्घटनावश राजनीति में आ गया।’’

उन्होंने आतंकवादी हाफिज सईद के राजनीति में आने को लेकर किये गये सवाल के जवाब में कहा कि यह मसला पाकिस्तान पर ही छोड़ देना चाहिए कि वह (पाकिस्तान) आतंकवादी देश बनना चाहता है या अच्छा देश बनना चाहता है। सिंह ने विद्यार्थियों का आह्वान किया कि उनमें बदलाव लाने का बहुत दमखम है और वे इसे देश के विकास में लगाये। पढ़ाई केवल डिग्री लेने तक ही सीमित नहीं होनी चाहिए बल्कि इसका उपयोग विकास में भी किया जाना चाहिए।

कोई जवाब दें