Pradyumna Murder

नई दिल्ली। गुरुग्राम के रेयान इंटरनेशनल स्कूल के अंदर हुई सात साल के मासूम प्रद्युम्न की हत्या के दस दिन बाद स्कूल को फिर से खोल दिया गया। स्कूल में बच्चे तो पहुंचे लेकिन हर किसी को जिस बात का अनुमान था वही हुआ। दिवंगत प्रद्युम्न की बहन निधी ने स्कूल आने से इंकार कर दिया। दरअसल प्रद्युम्न के पिता को पुलिस की थ्योरी पर भरोसा नहीं है। पुलिस ने स्कूल के अंदर हुई इस हत्या में बस के कंडक्टर अशोक को गिरफ्तार तो कर लिया है लेकिन प्रद्युम्न के पिता मानते हैं कि अशोक तो केवल एक मोहरा है। इस हत्या के असली गुनहगार कुछ और लोग हैं, जिन्हें बचाने की कोशिश की जा रही है।

प्रद्युम्न के पिता ने कहा है कि वह अपनी बेटी निधी को स्कूल नहीं जाने दे सकते हैं। अभी भी हत्यारे स्कूल में मौजूद हैं और उनकी बेटी की जान को खतरा हो सकता है। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी इस स्कूल में अब नहीं पढ़ेगी और हम किसी और स्कूल में उनके एडमिशन की बात कर रहे हैं।

 

 

LEAVE A REPLY