cm raje
cm raje

पेंशनरों की मेडिकल डायरी होगी आॅनलाइन-वसुन्धरा राजे
पाली। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा कि प्रदेश के पेंशनर्स को अब मेडिकल डायरी को लेकर आने वाली किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। राजे ने मेडिकल डायरी व्यवस्था को एक माह में आॅनलाइन करने के निर्देश दिए हैं ताकि बुजुर्ग पेंशनर्स को नजदीकी ई-मित्र के माध्यम से ही मेडिकल डायरी से संबंधित समस्याओं का समाधान मिल सके। राजे ने मंगलवार को पाली जिले के सुमेरपुर में आयोजित जनसंवाद में प्रमुख शासन सचिव सूचना प्रौद्योगिकी  अखिल अरोड़ा को इस सम्बंध में निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि एक माह में मेडिकल डायरी व्यवस्था आॅनलाइन की जाए ताकि पेंशनरों को चिकित्सा सुविधा के लिए चक्कर नहीं काटने पड़ें।

राजे को जनसंवाद के दौरान जब खिलाडियों एवं विद्यार्थियों ने सुमेरपुर में खेल सुविधाओं के अभाव की जानकारी दी तो मुख्यमंत्री ने विधानसभा में उपमुख्य सचेतक एवं स्थानीय विधायक मदन राठौड़ को निर्देश दिए कि सुमेरपुर में खेल मैदान विकसित करने के प्रयास करें। उन्होंने क्षेत्र के आदर्श एवं उत्कृष्ट विद्यालयों में भी समुचित खेल सुविधाएं विकसित करने के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ने के लिए राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है।

-‘शुभ शक्ति’ की लाभार्थी ने मुख्यमंत्री को किया शादी में आमंत्रित
जनसंवाद के दौरान जब मुख्यमंत्री शुभ शक्ति योजना के लाभार्थियों से बात कर रही थी तो दो युवतियों निशा और प्रीति ने मुख्यमंत्री को बताया कि वे गरीब परिवार से हैं। उन्हें शुभ शक्ति योजना के तहत 55-55 हजार रूपये की सहायता राज्य सरकार से मिली है। इससे उनके परिवार को संबल मिला है। उन्होंने इसके लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया और 27 अप्रैल को होने वाली अपनी शादी का कार्ड सौंपकर मुख्यमंत्री को आमंत्रित भी किया।

-हमारे बच्चों को मिला नया जीवन
मुख्यमंत्री ने जनसंवाद के दौरान राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम में लाभान्वित हुए बच्चों सोनल, नीरज, अनिषा, हर्ष, गुडिया एवं गौरी से मुलाकात की। हृदय रोग जटिलताओं से ग्रसित इन बच्चों का जयपुर, जोधपुर एवं अन्य बड़े शहरों में निशुल्क आॅपरेशन करवाया गया है। बच्चों के अभिभावकों ने इसके लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम से उनके बच्चों को नया जीवन मिला है। श्रीमती राजे ने भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना, पालनहार योजना, लैपटाॅप एवं स्कूटी वितरण योजना, उज्ज्वला योजना, सामाजिक पेंशन योजना, आवास योजना एवं राजश्री योजना सहित अन्य योजनाओं के लाभार्थियों से बात कर योजनाओं का फीडबैक लिया।

मुख्यमंत्री राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के लाभार्थी बच्चों से मिल रही थीं, तब एक सात वर्षीय बालिका सोनल मंच पर उनके पास पहुंची और उन्हें एक ग्रीटिंग कार्ड दिया। इस बालिका की जोधपुर मेडिपल्स हाॅस्पिटल में निःशुल्क ओपन हार्ट सर्जरी हुई थी, जिसके बाद अब वह पूरी तरह स्वस्थ है। श्रीमती राजे ने बालिका से कार्ड लेते हुए कहा कि यही सबसे बड़ा रिवार्ड है, जो लोगों के चेहरों पर फैल रही मुस्कान के रूप में नजर आता है। जनसंवाद के दौरान स्थानीय किसानों ने जब मुख्यमंत्री से कहा कि सुमेरपुर और आस-पास के क्षेत्र की जीरा एवं ईसबगोल की फसल गुजरात की उंझा मंडी में जाती है तो मुख्यमंत्री ने इस दिशा में प्रयास करने के निर्देश दिए ताकि स्थानीय जीरा और ईसबगोल की पूरी आवक सुमेरपुर मण्डी में ही हो। उन्होंने कहा कि उंझा मण्डी और सुमेरपुर मण्डी में हो रही खरीद का अध्ययन करवाकर ऐसे प्रयास किए जाएं कि यहां की फसल तो यहां की मण्डी में आए ही, अन्य प्रदेशों की फसल भी यहां आए। इसके लिए मुख्यमंत्री ने कृषि अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे दोनों मंडियों के करों एवं दरों का विश्लेषण कर सात दिन में रिपोर्ट पेश करें।
-4 साल में 1700 करोड़, 5 साल में 800 करोड़
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में सुमेरपुर विधानसभा क्षेत्र में 1700 करोड़ रूपए के विकास कार्य स्वीकृत किए गए हैं, जबकि पिछली सरकार में यहां केवल 800 करोड़ रूपए खर्च किए गए। यहां भामाशाह स्वास्थ्य बीमा योजना में 10.5 करोड़ रूपए खर्च कर 14 हजार लोगों को लाभान्वित किया गया है। राजश्री योजना में भी 5000 परिवारों को सहायता दी गयी है। न्याय आपके द्वार अभियान के तहत 1.5 करोड़ प्रकरणों का निस्तारण हुआ है तथा उज्जवला योजना में 14,500 परिवारों को गैस कनेक्शन दिए गए हैं। स्थानीय लोगों ने जंवाई बांध के पुनर्भरण के प्रयासों के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।
मुख्यमंत्री ने सुमेरपुर में नवनिर्मित राजमाता विजयाराजे सिंधिया टाउनहाॅल सहित सुमेरपुर विधानसभा क्षेत्र के लिए 26.51 करोड़ रूपए के विकास कार्याें का लोकार्पण किया। उन्होंने मेधावी छात्रा स्कूटी वितरण योजना के तहत 5 बालिकाओं को स्कूटी, पं. दीनदयाल उपाध्याय विशेष योग्यजन अंग उपकरण वितरण योजना के तहत 2 ट्राईसाइकिल, 2 ब्लांइड स्टिक एवं 3 हियरिंग एड तथा 5 मेधावी बालिकाओं को साईकिल भी वितरित की। इस अवसर पर उर्जा राज्यमंत्री पुष्पेन्द्र सिंह, विधानसभा में उपमुख्य सचेतक मदन राठौड़, सांसद रामचरण बोहरा, प्रमुख शासन सचिव आयोजना अखिल अरोड़ा, जिला कलक्टर सुधीर शर्मा, डाॅक्टर्स, सीए, विभिन्न योजनाओं के लाभार्थी, खिलाड़ी, प्रतिभावान विद्यार्थी, पेंशनर्स तथा समाजसेवियों सहित अन्य प्रबुद्धजन उपस्थित थे।

कोई जवाब दें