gulab chand katriya-bjp
gulab chand katriya-bjp

जयपुर। राजस्थान के गृह एवं आपदा राहत मंत्री गुलाबचन्द कटारिया ने कहा की राजस्थान सरकार जनता की हर समस्या के निराकरण हेतु प्रतिबद्व है और आकस्मिक प्राकृतिक आपदाओं से जन साधारण को होने वाली हर तकलीफ में राजस्थान सरकार द्वारा जनता को हरसम्भव मदद प्रदान की जायेगी। आपदा राहत मंत्री गुलाबचन्द कटारिया ने कहा, 2 मई को अचानक आये अंधड एंव तूफान से भरतपुर धौलपुर और अलवर जिले में जनसाधारण को शारीरिक व मानसिक क्षति पहुंची है। इन दुखःद पलो में सरकार की पूरी संवेदना पीडितो के साथ है तथा जनसामान्य को इस आकस्मिक प्राकृतिक आपदा से हुई क्षति के बारे में जानकारी मिलते ही हमने आपदा राहत पहुंचाने की कार्यवाही षुरू कर दी है। अभी तक भरतपुर में 17, धौलपुर में 5 और अलवर में 9 व्यक्ति इस आकस्मिक प्राकृतिक आपदा की वजह से अकाल मृत्यु के षिकार हुये है। और हमारे धौलपुर क्षेत्र के 2 निवासी उत्तर प्रदेष के आगरा शहर में किसी कार्यवष गये थे और वहां इस आकस्मिक आपदा की वजह से उनकी भी मृत्यु हो गई। इस प्रकार अभी तक राजस्थान के 33 नागरिकों की इस प्राकृतिक आपदा की वजह से मृत्यु हुई है। इन तीनों जिलों में कुल 205 व्यक्ति घायल हुये हैं तथा लगभग 100 की संख्या में पषुधन की क्षति की संभावना है।

गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि अंधड से हुई इस क्षति में प्रभावित परिवारों की सहायता हेतु हर मृतक के परिजनों को 4-4 लाख रूपये की सहायता दी जायेगी और घायलों को 60 प्रतिषत से अधिक शारीरिक क्षति होने पर 2 लाख रूपये तथा 60 प्रतिषत से कम शारीरिक क्षति होने पर 75 हजार रूपये की राहत दी जायेगी और अस्पताल में भर्ती 7 दिन से कम रहने पर 7 हजार रूपये और 7 दिन से ज्यादा रहने पर 12 हजार रूपये की राहत सम्बधिंत व्यक्ति को प्रदान की जायेगी इतना ही नहीं अचानक आई इस प्राकृतिक आपदा से यदि पशुधन का भी नुकसान हुआ है तो राज्य सरकार राज्य आपदा प्रबन्धन राहत कोष से दुधारू पशुओं की मृत्यु होने पर प्रति पशु 30 हजार रूपये प्रदान करेगी इस श्रेणी मे ऊँट भी शामिल है तथा छोटे पशु बकरी ्भेड आदि की मृत्यु होने पर प्रति पशु तीन हजार रूपये की राहत दी जायेगी यदि किसी नागरिक के मकान का भी नुकसान हुआ है तो पक्के व कच्चे मकान के पूर्ण क्षतिग्रस्त होने पर 95 हजार रूपये तथा आंषिक क्षतिग्रस्त होने पर पक्के मकान के लिये पांच हजार रूपये और कच्चे मकान के लिये तीन हजार रूपये की राहत प्रदान की जायेगी ।

कटारिया ने कहा की राजस्थान सरकार राहत मंत्री होने के नाते मेरी पूरी संवेदना पीडितों के साथ है और पीडितों को राहत पहँुचाने के लिए राजस्थान सरकार ने राज्य आपदा राहत प्रबंधन कोष (ैक्त्थ्) से भरतपुर जिले हेतु एक करोड रूपये अलवर जिले हेतु 65 लाख रूपये और धौलपुर जिले हेतु 85 लाख रूपये की राषि जारी कर दी है तथा सभी प्रभावित जिलों के कलेक्टरों को किसी भी प्रकार त्वरित राहत दिलाने के लिए कोष की आवष्यकता होने पर तुरन्त राषी जारी करने के निर्देष दिये हैं। अलवर, भरतपुर, धौलपुर जिलांे में मुख्यमंत्री के निर्देषानुसार सरकार के 3 केबीनेट मंत्री राहत कार्यों की समीक्षा हेतु पहुँच चुके हंै तथा उपस्थित रह कर त्वरित राहत दिलवा रहे है धौलपुर में सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री अरूण चतुर्वेदी, भरतपुर में उच्च षिक्षा मंत्री कालीचरण सर्राफ और अलवर में मोटर गैराज सामान्य प्रषासन मंत्री हेमसिंह भडाणा उपस्थित हैं।

कोई जवाब दें