Canola-oil

नई दिल्ली : दुनिया भर में खाद्य सामग्री में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला वनस्पति तेल ‘कैनोला तेल’ दिमाग पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है और इससे याददाश्त कमजोर होने के साथ-साथ सीखने की क्षमता भी प्रभावित होती है।साइंटिफिक रिपोर्ट्स में प्रकाशित एक नये अध्ययन के अनुसार, चूहों पर किये गये प्रयोग से यह सामने आया है कि कैनोला तेल का सेवन करने पर वजन भी बढ़ता है।

अमेरिका की टेम्पल यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर डोमेनिको प्रैटिको का कहना है, ‘‘कैनोला तेल ज्यादा इस्तेमाल होता है क्योंकि यह अन्य वनस्पति तेल के मुकाबले सस्ता है, और इसे विज्ञापनों में स्वास्थ्यवर्धक बताया जाता है।’’ उनका कहना है, ‘‘हालांकि, बहुत कम अध्ययनों में इस दावे की सत्यता की जांच की गयी है, खास तौर से मस्तिष्क के मामले में।’’ मस्तिष्क के कार्य को प्रभावित करने में कैनोला तेल की भूमिका का अध्ययन कर रहे अनुसंधानकर्ताओं ने चूहे के मॉडल में याददाश्त क्षीण होने, एमिलॉयड एकत्र होने और अल्झाइमर बीमारी के दौरान होने वाली तंत्रिकाओं संबंधी समस्या पर ध्यान केंद्रित किया।

कोई जवाब दें