जयपुर। राजस्थान में शनिवार सुबह एक बड़ा हादसा हुआ है। राजस्थान के सवाई माधोपुर में कोटा हाइवे पर दुब्बी बनास नदी की पुलिया से एक निजी बस रैलिंग तोड़ते हुए बनास नदी में गिर गई। हादसे में 33 जनों की मौत हो चुकी है। एक दर्जन से अधिक गंभीर घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है। हादसे के पीछे बड़ा कारण चालक के जगह सोलह साल के नाबालिग कंडक्टर के बस चलाने और दूसरे वाहन को ओवरटेक करते हुए बस अनियंत्रित होकर नदी में गिरने को बताया जा रहा है। बस धार्मिक यात्रा पर थी। सुबह दुब्बी बनास नदी पुलिया को पार करते हुए यह हादसा हुआ है।
बस सीधी नदी के बीच में गिरी, जहां काफी पानी था। बस पूरी तरह से पानी में डूब गई। पुलिया पर गुजर रहे वाहन चालकों और ग्रामीणों ने नदी तक पहुंचकर लोगों को निकालना शुरु किया तो काफी लोग दम घुटने से मर चुके थे। पुलिस के मुताबिक, ऊंचाई से गिरी बस सीधे पानी में गिरी और बस में पानी भर गया। इससे अधिकांश यात्री निकल नहीं पाए। बस में पचास यात्री सवार बताए जाते है। ऊंचाई से गिरी बस से यात्रियों को भी चोटें लगी। मरने वालों में करीब दस लोग सवाई माधोपुर के है और शेष मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश के  है। पुलिस और प्रशासन आपदा कार्य में लगे हुए है। मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान, राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने हादसे में मरे लोगों के प्रति संवेदना जताई है।

कोई जवाब दें