जयपुर। भाजपा के पूर्व मंत्री और वरिष्ठ विधायक घनश्याम तिवाड़ी के इस्तीफे से पार्टी सकते में है, वहीं तिवाड़ी के इस्तीफे के बाद नेताओं की प्रतिक्रिया भी आने लगी है। पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी की पहली प्रतिक्रिया आई है। परनामी ने कहा है कि घनश्याम तिवाड़ी के पार्टी छोड़ने से कोई नुकसान नहीं होगा, बल्कि उनके जाने से भाजपा को फायदा ही होगा। बांसवाड़ा दौरे पर आए परनामी ने कहा कि आगामी विधानसभा और लोकसभा चुनाव में भाजपा ही जीतेगी और राजस्थान व केन्द्र में भाजपा की सरकार बनेंगी।

तिवाड़ी पार्टी के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी कर रहे थे। इससे पार्टी की प्रतिष्ठा को नुकसान हो रहा था। अब उनके पार्टी छोड़ने से भाजपा को फायदा मिलेगा। गौरतलब है कि आज घनश्याम तिवाड़ी ने भाजपा से नाता तोड़ते हुए कहा कि भाजपा में भी अघोषित आपातकाल चल रहा है। भ्रष्ट और बेईमान लोग पनप रहे हैं। पार्टी का आंतरिक लोकतंत्र खतरे में है। ऐसे में वे इस पार्टी में नहीं रह सकते हैं। आगामी विधानसभा व फिर लोकसभा चुनाव में वे भारत वाहिनी पार्टी के बैनर तले चुनाव लड़ेंगे और वे खुद भी सांगानेर से चुनाव लड़ेंगे। तिवाड़ी ने इस्तीफा देने से पहले तीन पेज का इस्तीफा भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह को दिया है, जिसमें इस्तीफे के लिए पार्टी के केन्द्रीय नेतृत्व और मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को जिम्मेदार ठहराया है।

कोई जवाब दें