नवाचारों से आगे बढ़ रहा है मतदाता जागरूकता अभियान

जयपुर। मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार की अगुवाई में प्रदेश भर में मतदाताओं को जागरुक करने के लिए जिला निर्वाचन अधिकारियों (कलेक्टर्स) में नवाचारों को लेकर होड़ सी लगी हुई है। प्रदेश के सभी जिलों में कहीं सांप-सीढ़ी के खेल के जरिए मतदाताओं को मताधिकार का उपयोग करने का संदेश दिया जा रहा है तो कहीं कार्टून कैरेक्टर्स, लोकगीतों, आकर्षक रेडियो जिंगल्स के माध्यम से मतदाताओं को 7 दिसंबर के दिन लोकतंत्र के उत्सव में अधिकाधिक भागीदारी बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

समाचार पत्रों से टीवी के स्क्रीन तक और फेसबुक से लेकर ट्विटर तक सोशल मीडिया में भी मतदाता जागरुकता अभियान की चर्चाएं हो रही हैं। चुनाव जैसे महत्वपूर्ण कार्य में व्यस्त होने के बावजूद प्रदेश के जिला निर्वाचन अधिकारीगण अपनी पूरी टीम के साथ नवाचारों को अंजाम दे रहे हैं।

चूरू में ‘छोटा भीम‘ दे रहा मतदान की सीख
प्रदेश का सुदूर जिला माना जाने वाला चूरू नवाचार में अग्रणी भूमिका निभा रहा है। जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मुक्तानंद अग्रवाल ने अभिनव प्रयोग करते हुए ‘छोटा भीम संग मतदान‘ की कमिक्स स्टोरी जारी करने का अभिनव प्रयोग किया गया है। इसमें बच्चों में बेहद लोकप्रिय और टीनएजर्स में चर्चित कार्टून चरित्र छोटा भीम और उसके साथियों के जरिए मतदान का महत्व समझाया जा रहा है। साथ ही इसमें किसी प्रलोभन में नहीं आने का मैसेज भी दिया जा रहा है। इस पहल को आम जनता ने हाथों-हाथ लिया है और खासा उत्साह दिखाया है। इससे आमजन में मतदान के प्रति जागरुकता भी बढ़ रही है।

सांप-सीढ़ी से सीखें, क्या करना-क्या नहीं
अजमेर जिला कलेक्टर आरती डोगरा ने नवाचार करते हुए ‘सांप-सीढ़ी‘ को मतदाता जागरूकता का जरिया बनाया। मती डोगरा ने अजमेर के आनासागर में सांप-सीढ़ी का खेल दिखाया और इस गेम के जरिए यह बताया गया कि स्वस्थ और स्वच्छ मतदान के लिए क्या करना जरूरी है और क्या नहीं। सांप के जरिए बताया गया है कि जो काम नहीं करने उस पर खिलाड़ी पहुंच गया तो उस नंबर पर पहुंचते ही उसे सांप काट जाएगा। इस रोचक गेम से आम जनता जुड़ रही है और मतदान के महत्व को समझ रही है। इस पहल को निर्वाचन विभाग ने खासा सराहा है।

हनुमानगढ़ का कार्टून ‘वोटू‘, लुभा रहा मतदाताओं को
हुनमानगढ़ के जिला कलेक्टर दिनेश चंद्र जैन ने भी बतख जैसे कार्टून कैरेक्टर को ‘वोटू‘ का नाम दिया आमजन के बीच मतदाताओं को वोटिंग कराने के लिए प्रेरित किया जा रहा है। ‘वोट गेरो‘ यात्रा के तहत कार्टून बनाया है, जिसमें ग्रामीण भाषा में वोट देने को प्रेरित किया जा रहा है। साथ ही इसमें बताया गया है कि किस-किस तरह के प्रलोभन दिए जाते हैं, जिनसे बचने की जरूरत है। इसमें अफसर दंपती का भी वोट डालने जाने संबंधी कार्टून भी है।

लोकगीत बना जन-जन की आवाज
राज्य का एक और जिला भरतपुर के कलेक्टर संदेश नायक ने एक कदम और आगे बढ़ते हुए लोकगीतों को जागरूकता का माध्यम बनाया। उन्होंने ‘बूथ पे मैं अकेली चली जाऊंगी, यामें कांई को डर…‘ गीत के जरिए खासकर महिला मतदाताओं को मतदान के लिए प्रेरित करने का काम किया। मेवाती अंचल में लोकप्रिय बनाने के लिए वहां की स्थानीय भाषा का सहारा लिया गया है। महिलाओं को जागरूक करने वाले इस गीत को नानक चंद नवीन ने लिखा है।

‘लेट्स वोट जयपुर‘ मैराथन बनी जन-जन की आवाज
जयपुर के जिला कलक्टर सिद्धार्थ महाजन की पहल पर युवा मतदाताओं को जागरूक करने के लिए ‘लेट्स वोट जयपुर‘ टाइटल से मैराथन करवाई है। इसे अलावा उन्होेंने सरकारी कार्यालयों, स्कूल, अस्पताल, आंगनबाड़ी केन्द्र, पेट्रोल पम्प, बस स्टैंड यहां तक कि गैस सिलेण्डरों पर भी मतदाता जागरूकता संबंधी स्टिकर चिपकाने के आदेश दिए हैं। उन्होंने व्यापार मण्डलों एवं मॉल्स मालिकों के साथ बैठक कर दुकानों एवं दीपावली सजावट के माध्यम से मतदाता जागरूकता संदेश देने का आग्रह भी किया।

‘ए…हामरो’ टेगलाइन चढ़ी जन-जन की जुबान पर
बांसवाड़ा जिला कलक्टर भगवती प्रसाद ने मतदाताओं को जागरूक करने और अधिकाधिक मतदान करने के लिए स्थानीय वागड़ी बोली में ‘ए हामरो’ शीर्षक से प्रचार साहित्य बनवाई है। सूचना व जनसंपर्क विभाग को गत दिनों दिए गए दायित्व के बाद गुजराती में ‘जो बका’ की प्रसिद्ध टेगलाइन को ध्यान में रखते हुए इस क्षेत्र में वागड़ी की टेग लाईन ‘ए….हामरो’ (ए सुनो) का निर्माण किया गया है और इसमें एक कार्टून करेक्टर के जरिये जिलेभर के मतदाताओं को संबोधन देते हुए आकर्षक वागड़ी पंक्तियों में भांति-भांति के संदेश दिए जा रहे हैं। इन संदेशों में मतदाताओं को मतदान की महत्ता, वीवीपेट की कार्यप्रणाली, अनिवार्य व नैतिक मतदान के संदेश के साथ स्वच्छ व पारदर्शी निर्वाचन की प्रणाली से लोकतंतर्् की मजबूती के संदेश को प्रेषित किया गया है। यह कार्टून करेक्टर और इसमें ‘ए…हामरो’ टेगलाइन जन-जन की जुबान पर चढ़ चुकी है।

रन फॉर वोट से फैलाई जागरूकता
भीलवाड़ा जिला कलक्टर शुचि त्यागी ने मतदाता जागरूकता के लिए 20 अक्टूबर को रन फॉर वोट का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग साढे तीन हजार शहरवासियों ने 4 किलोमीटर की दौड़ लगाकर मतदान का संदेश दिया। जिला निर्वाचन अधिकारी सूची त्यागी आला प्रशासनिक अधिकारियों ने भी 4 किलोमीटर की दौड़ पूरी कर आम मतदाताओं को जागरूकता के प्रयास किए हैं।

कोई जवाब दें