Under the National Mission, a total of 857 start-ups and 1234 micro, small and medium enterprises have registered themselves in September, 2018 in the campaign launched for registration on public procurement portal GEM.
Startups

राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी और कैमटेक एसोसिएट्स के उद्योग विशेषज्ञ स्टार्टअप्स और इनोवेशन्स को प्रमोट करने के लिए आए साथ, आरटीयू, कैमटेक एसोसिएट्स, आर्या ग्रुप ऑफ़ कॉलेज, भारद्वाज फाउंडेशन जयपुर और सीएडीडी सेंटर के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर करने के बाद टेक्निकल और प्रोफेशनल इंस्टीट्यूट्स में तैयार होगा बिजनेस स्टार्ट-अप प्लेटफॉर्म  

जयपुर। राजस्थान तकनीकी विश्वविद्यालय (आरटीयू) ने जयपुर के सीतापुरा में कैमटेक डवलपमेंट सेंटर में स्टार्ट-अप, इनक्यूबेशन एंड इनोवेशन सेंटर ‘‘बिज़ लॉन्च’’ शुरू किया। आरटीयू के वाइस चांसलर प्रो. एन.पी. कौशिक उद्घाटन समारोह के मुख्य अतिथि थे वहीं एम्प्लॉयर्स एसोसिएशन ऑफ राजस्थान के प्रेसीडेन्ट  एन.के. जैन, आर्या ग्रुप ऑफ कॉलेजेज के चेयरमैन डॉ. अरविंद अग्रवाल, एलयूबी के जनरल सेक्रेट्री महेंद्र खुराना, आरटीयू के प्रो.वाइस चांसलर प्रोफेसर राजीव गुप्ता एवं जयपुर रग्स लिमिटेड के सीएमडी एन.के. चौधरी विशिष्ट अतिथि के रूप में समारोह में उपस्थित थे। सर्वप्रथम कैमटेक एसोसिएट्स के मैनेजिंग डायरेक्टर  अजय कुमार गुप्ता एवं भारद्वाज फाउण्डेशन के ट्रस्टी श्री पी.एम. भारद्वाज ने स्वागत भाषण किया।
इसके बाद केपीओ पार्क की निदेशक इशिता गुप्ता ने ‘‘बिज लॉन्च’’ के बारे में विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम में श्री राजीव भार्गव एवं श्री जयसिंह कोठारी भी मौजूद रहे। अन्त में इन्क्यूबेशन सेंटर के को-वर्किंग प्रभारी श्री संजीव खनिजो ने धन्यवाद ज्ञापित किया।
कैमटेक एसोसिएट्स के मैनेजिंग डायरेक्टर अजय कुमार गुप्ता ने बताया कि समारोह को संबोधित करते हुए राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो. एन.पी. कौशिक ने कहा कि राजस्थान के इतिहास में यह पहली बार है कि आरटीयू स्टार्टअप और उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए स्टार्ट-अप, इन्क्यूबेशन और इनोवेशन सेंटर “बिज़ लॉन्च“ प्रारम्भ किया है और इस प्रकार विभिन्न तकनीकी और पेशेवर संस्थानों में बिजनेस स्टार्टअप के अनुकूल प्लेटफॉर्म तैयार कर रहा है। आरटीयू और कैमटेक एसोसिएट्स के उद्योग विशेषज्ञ स्टार्टअप आइडियाज और इनोवेशन्स का समर्थन करने के लिए एक मंच बनाने के लिए एक साथ आए हैं। यहां इण्डस्ट्री के सफल बिजनेसमैन अपने आइडियाज और सक्सेज मंत्राज को फ्यूचर एंटरप्रेन्योर्स के साथ साझा करने के साथ ही उनका मार्गदर्शन और सुझाव भी प्राप्त करेंगे।
प्रो. कौशिक ने कहा कि भारत जैसे विकासशील देश के लिए इनावेशन्स कई चुनौतियों से निपटने में मदद करते हैं और हमें ग्लोबल लीडर्स के समकक्ष लाते हैं। केन्द्र सरकार के स्टार्ट-अप इंडिया अभियान ने इनोवेशन्स के लिए देश में संभावनाओं को बढ़ावा दिया है। हम राजस्थान से सर्वश्रेष्ठ स्टार्टअप और इनोवेशन्स को सपोर्ट और पोषण करने के लिए यहां मौजूद हैं। श्री एन.पी. कौशिक ने कहा कि बिज़ लांच स्टार्ट-अप्स के लिए मेंटरिंग, कोचिंग, नेटवर्किंग और वित्त पोषण के अवसर प्रदान करेगा। हम महत्वाकांक्षी उद्यमियों के साथ नए स्टार्टअप आइडियाज और प्रोजेक्ट्स को सपोर्ट करना चाहते हैं जो नए बाजार स्थापित करना चाहते हैं। हम उन उद्यमियों को बढ़ावा देते हैं, जो नए विचारों के साथ आगे बढ़ने की इच्छा रखते हैं। उन्होंने कहा कि बिज़ लॉन्च इनोवेटर्स, स्टार्ट-अप एंटरप्रेन्योर्स स्मॉल स्केल कंपनियों और वैज्ञानिकों को उज्ज्वल विचारों और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ने की महत्वाकांक्षा के लिए मार्गदर्शन प्रदान करेगा। यह उन सभी स्टेक होल्डर्स को एक साथ लाएगा जो इनोवेशन्स और स्केलेबल बिजनेस आइडियाज के लिए फण्डिंग, सलाह और नेटवर्किंग के अवसर प्रदान करते हैं और जिनका लक्ष्य लचीलापन, दृढ़ता और सामरिक अंतर्दृष्टि जैसे नेतृत्व कौशल विकसित करना है।
कैमटेक एसोसिएट्स के श्री अजय कुमार गुप्ता ने कहा कि स्टार्टअप्स को बढ़ावा देने का यह अभियान राजस्थान टेक्निकल यूनिवर्सिटी, कैमटेक एसोसिएट्स, आर्या ग्रुप ऑफ कॉलेजेज के बीच कूकस और कैमटेक डवलपमेंट सेंटर, सीतापुरा में दो स्थानों पर स्टार्टअप, इन्क्यूबेशन एण्ड इनोवेशन सेंटर शुरू करने के लिए एमओयू हस्ताक्षर के साथ शुरू हुआ। इसमें भारद्वाज फाउंडेशन जयपुर और कैड सेंटर भी सहभागी हैं। भारद्वाज फाउण्डेशन से जहां फ्यूचर एंटरप्रेन्योर्स को मोटिवेशनल सपोर्ट और कैड सेंटर से प्रोडक्ट डिजाइन सपोर्ट मिलेगा, वहीं कैमटेक एसोसिएट्स एडवान्स सॉफ्टवेयर लर्निंग एण्ड प्रोग्रामिंग सपोर्ट में सहायक होगा।

कोई जवाब दें