RESULT
RESULT

दिल्ली.राष्‍ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) ने आज यूजीसी नेट के परिणाम घोषित किये। एनटीए द्वारा पहली यूजीसी नेट परीक्षा देश के 235 शहरों में 18 दिसम्‍बर, 2018 से 22 दिसम्‍बर, 2018 तक दो पालियों में आयोजित की गई थी। 85 विषयों में परीक्षा का संचालन किया गया था। इस परीक्षा के लिए 9,56,837 अभ्‍यर्थियों ने पंजीकरण कराया था।

परीक्षा परिणाम http://ntanet.nic.in/ntaresults/root/LoginPageDob.aspx पर देखे जा सकते है। पूरे देश में 598 परीक्षा केन्‍द्र थे। परीक्षा के सुचारू रूप से आयोजित करने के लिए 742 पर्यवेक्षक, 295 नगर-समन्‍वयक और 24 राज्‍य स्‍तरीय समन्‍वयक नियुक्‍त किये गये थे। परीक्षा परिणाम आज घोषित किये गये है।
परीक्षा परिणाम : एक दृष्टि में
पंजीकृत अभ्‍यर्थियों की संख्‍या
956837
दोनों विषयों में उपस्थित होने वाले अभ्‍यर्थियों की संख्‍या
681930
सहायक प्रोफेसर की योग्‍यता के लिए चयनित अभ्‍यर्थियों की संख्‍या
44001
जेआरएफ के लिए चयनित और सहायक प्रोफेसर के लिए योग्‍य अभ्‍यर्थियों की संख्‍या
3883
· इस बार परीक्षा प्रक्रिया में बदलाव किया गया था। परीक्षार्थियों के बोझ को कम करने के लिए पहली बार कम्‍प्‍यूटर आधारित परीक्षा का आयोजन किया गया।

· योग्‍य उम्‍मीदवारों के शीघ्र नियोजन के लिए रिकॉर्ड समय में परिणाम घोषित किये गये है। परीक्षा, 18 दिसम्‍बर, 2018 से 22 दिसम्‍बर, 2018 के दौरान 10 पालियों में आयोजित की गई थी और 05 जनवरी, 2019 को परीक्षा परिणाम घोषित किये गये।

· परीक्षा प्रणाली को पारदर्शी बनाने के लिए प्रश्‍न–पत्र और रिकॉर्ड किये गये उत्‍तर उपलब्‍ध कराये गये, ताकि परीक्षार्थी अपनी योग्‍यता की जांच कर सके।

· परिणाम की सटीकता को सुनिश्चित करने के लिए प्रश्‍नों को उत्‍तर सहित प्रदर्शित किया गया, ताकि यदि कोई त्रुटि हो, तो उसका निदान किया जा सके।

· देश में आयोजित होने वाले प्रोफेशनल परीक्षाओं में पहली बार 8,000 सीसीटीवी के जरिये सीसीटीवी निगरानी की गई।

· मोबाइल तथा अन्‍य इलेक्‍ट्रॉनिक उपकरणों की मदद से की जाने वाले नकल को भी सभी केन्‍द्रों पर जैमर की मदद से रोका गया।
यूजीसी नीति के अनुसार ऐसे अभ्‍यर्थी जो दोनों विषयों में उपस्थित होते है और कुल प्राप्‍तांक में निम्‍नतम अर्हता अंक प्राप्‍त करते है, उन्‍हें नेट उर्तीण घोषित किया जाता है। सफल उम्‍मीदवारों को यूजीसी प्रमाण पत्र जारी करेगी।

कोई जवाब दें