Maruti Suzuki

नयी दिल्ली : वाहन चलाते समय सेफ्टी बेल्ट लगाने को बढ़ावा देने के लिए मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने आज से देशभर में सामाजिक अभियान की शुरुआत की। कार निर्माताओं की ओर से 17 भारतीय शहरों में कराए गए सर्वेक्षण के मुताबिक केवल 25 प्रतिशत कार चलाने वाले नियमित रूप से सीट बेल्ट पहनते हैं।

मारुति सुजुकी इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी केनीची अयाकावा ने बयान में कहा, “सीट बेल्ट, कार में प्राथमिक सुरक्षा प्रणाली है और कई अध्ययनों में सामने आया है कि इसका नियमित प्रयोग सड़क दुर्घटनाओं में चोटों और मौत के जोखिम को कम कर सकता है।” उन्होंने आगे कहा कि कंपनी के सामाजिक अभियान ‘पहनी क्या’ के माध्यम से एमएसआई उपयोगकर्ताओं को सुरक्षा के सरल चरणों का पालन करने के लिए राजी करना चाहता है।

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की ओर से एकत्र किए गए आंकड़े के मुताबिक सीट बेल्ट नहीं बांधने के कारण पिछले साल 5,638 लोगों की दुर्घटनाओं में मौत हुई थी। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के मुताबिक, सीट बेल्ट प्राथमिक संयम प्रणाली है जो कि मौत के जोखिम को 45-60 प्रतिशत तक कम कर सकती है।

कोई जवाब दें