kaise door hoga baandeekuee kasbe ka peyajal sankat ?, 50 laakh ke tyoobavailon mein graameenon ne bhar die patthar

जयपुर। मुख्यमंत्री हैल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बतरने पर मुख्य अभियंता शहरी आई.डी.खान की ओर से जारी कारण बताओ नोटिस का जयपुर ग्रामीण अधीक्षण अभियंता मनीष बेनीवाल ने 42 दिन बाद जवाब दिया है। सीएम हैल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों के निस्तारण में एसई मनीष बेनीवाल द्वारा लंबे समय से लापरवाही बरती जा रही थी। अधीक्षण अभियंता जयपुर ग्रामीण के स्तर पर सीएम हैल्पलाइन पर दर्ज पेयजल से जुड़ी 60 शिकायतें लंबित चल रही थी। हैल्पलाइन पर दर्ज शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर मुख्य अभियंता शहरी आई.डी.खान की ओर से 4 सितम्बर, 2018 को एसई मनीष बेनीवाल को कारण बताओ नोटिस जारी कर सात दिवस में स्पष्टीकरण मांगा गया था, जिसका उन्होंने 42 दिन बाद 16 अक्टूबर, 2018 को मुख्य अभियंता शहरी को जवाब भेजा है।

एसई मनीष बेनीवाल ने कारण बताओ नोटिस के जवाब देते हुए बताया कि अधीक्षण अभियंता कार्यालय जयपुर ग्रामीण के स्तर पर 27 अगस्त, 2018 तक कुल 60 शिकायतें लंबित थी, जिनका उनके द्वारा तत्काल निस्तारण कर दिया गया। अधीक्षण अभियंता कार्यालय जयपुर ग्रामीण के स्तर पर केवल 5 शिकायतें लंबित चल रही है, जिनका भी शीघ्र निराकरण कर दिया जाएगा। एसई जयपुर ग्रामीण के स्तर पर सीएम हैल्पलाइन शिकायतों के निस्तारण में कोई लापरवाही नहीं बरती गई है। उल्लेखनीय है कि एसई मनीष बेनीवाल द्वारा सीएम हैल्पलाइन शिकायतों के निस्तारण में लापरवाही बरतने पर जयपुर जिला कलक्टर द्वारा भी 17 सीसी का नोटिस जारी किया जा चुका है।

कोई जवाब दें